Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''लालकिला'' पर पर्यटन मंत्रालय की सफाई, डालमिया के साथ MOU केवल रखरखाव के लिए

विपक्षी पार्टियों ने सरकार पर देश की स्वतंत्रता के प्रतीकों को आभासी तौर पर कॉरपोरेट घराने को सौंपने का आरोप लगाया है।

लालकिला को निजी कंपनी को सौंपे जाने के विपक्षी दलों की आलोचनाओं के बीच पर्यटन मंत्रालय ने आज स्पष्ट किया कि डालमिया भारत लिमिटेड के साथ हुआ समझौता 17वीं शताब्दी के इस स्मारक के अंदर और इसके चारों ओर पर्यटक क्षेत्रों के विकास एवं रखरखाव भर के लिए है।

इसे भी पढ़ें- मोदी की चीन यात्रा: कांग्रेस ने पीएम पर देश के रक्षा और सामरिक हितों से समझौता करने का लगाया आरोप

डालमिया भारत समूह एमओयू के तहत स्मारक की देखरेख करेगा और इसके इर्द गिर्द आधारभूत ढांचा तैयार करेगा। पांच वर्ष के दौरान इसमें 25 करोड़ रूपए का खर्च आएगा।

कांग्रेस, माकपा तथा टीएमसी जैसी पार्टियों ने सरकार पर देश की स्वतंत्रता के प्रतीकों को आभासी तौर पर कॉरपोरेट घराने को सौंपने का आरोप लगाया है।

इसे भी पढ़ें- AIIMS के रेजिडेंट डॉक्टरों ने खत्म की हड़ताल, जूनियर डॉक्टर को थप्पड़ मारे जाने का कर रहे थे विरोध

इसबीच, पर्यटन मंत्रालय ने एक बयान जारी कर स्पष्ट किया है कि सहमति पत्र (एमओयू) लाल किला और इसके आस पास के पर्यटक क्षेत्र के रखरखाव और विकास भर के लिए है।

बयान में कहा गया है कि एमओयू के जरिए ‘गैर महत्वपूर्ण क्षेत्र' में सीमित पहुंच दी गई है और इसमें स्मारक को सौंपा जाना शामिल नहीं है।

इनपुट- भाषा

Next Story
Top