Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आतंकी घटनाओं से ज्यादा सड़क के गड्ढों से लोगों की मौतः सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट ने सड़कों पर गड्ढों की वजह से पिछले पांच साल के दौरान हुई दुर्घटनाओं में 14,926 लोगों की मौत पर गुरुवार को चिंता व्यक्त करते हुए इसे ‘अस्वीकार्य'' बताया।

आतंकी घटनाओं से ज्यादा सड़क के गड्ढों से लोगों की मौतः सुप्रीम कोर्ट
X
सुप्रीम कोर्ट ने सड़कों पर गड्ढों की वजह से पिछले पांच साल के दौरान हुई दुर्घटनाओं में 14,926 लोगों की मौत पर गुरुवार को चिंता व्यक्त करते हुए इसे ‘अस्वीकार्य' बताया।
न्यायमूर्ति मदन बी. लोकूर, न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता की पीठ ने कहा कि सड़कों पर गड्ढों के कारण होने वाली मौतों का आंकड़ा ‘संभवत: सीमा पर या आतंकवादियों द्वारा की गई हत्याओं से ज्यादा है।
पीठ ने कहा कि 2013 से 2017 के बीच सड़कों पर गड्ढों के कारण हुई मौतों का आंकड़ा यही दिखाता है कि संबंधित प्राधिकारी सड़कों का रखरखाव सही तरीके से नहीं कर रहे हैं।
न्यायालय ने भारत में सड़कों के गड्ढों के कारण होने वाली मौतों के मामले में शीर्ष अदालत के पूर्व न्यायाधीश के. एस. राधाकृष्णन की अध्यक्षता वाली उच्चतम न्यायालय की सड़क सुरक्षा समिति की रिपोर्ट पर केन्द्र से जवाब मांगा है।
न्यायालय ने इस मामले को जनवरी में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया है। शीर्ष अदालत ने 20 जुलाई को इस तरह की मौतों पर चिंता व्यक्त करते हुए टिप्पणी की थी ऐसी दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यु के आंकड़े आतंकी हमलों में मारे गये लोगों की संख्या से अधिक हैं।
पीठ ने इस स्थिति को भयावह बताते हुये शीर्ष अदालत की समिति से इस मामले में सड़क सुरक्षा के बारे में गौर करने का अनुरोध किया था।
ठीक के काम नहीं कर रहे
सुप्रीम कोर्ट ने जनवरी में सुनवाई के दौरान कहा था कि यह सर्वविदित है कि इस तरह के हादसों में बड़ी संख्या में लोगों की मृत्यु होती है। वे प्राधिकारी, अपना काम ठीक तरह से नहीं कर रहे हैं जिनकी जिम्मेदारी सड़कों के रखरखाव की है। देश में सड़क सुरक्षा से संबंधित एक याचिका पर सुनवाई के दौरान सड़कों पर गड्ढों का मुद्दा उठा था।

हर दिन 10 मौतें
एक रिपोर्ट के अनुसार देश में सड़क पर गड्ढों के चलते हुए हादसों की संख्या तेजी से बढ़ी है। 2017 में इन गड्ढों के चलते 3597 की मौत हुई। यानी हर दिन औसतन 10 लोगों को गड्ढों के चलते अपनी जान गंवानी पड़ी। 2016 की तुलना में यह आंकड़ा 50 फीसदी ज्यादा है।
आतंकी घटनाओं से मौतें
2017 में देश में नक्सलवादी और आतंकवादी घटनाओं के चलते 803 लोगों की मौत हुई थी। इनमें आतंकवादी, सुरक्षाकर्मी और आम नागरिक तीनों शामिल हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top