Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अमेरिका में रहना चाहते हैं सबसे ज्यादा भारतीय, ये देश भी नहीं हैं कम

एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2005 से 2015 के बीच प्रवासी भारतीयों ने अमेरिकी नागरिकता हासिल करने में सर्वाधिक दिलचस्पी दिखाई।

अमेरिका में रहना चाहते हैं सबसे ज्यादा भारतीय, ये देश भी नहीं हैं कम
X

एक अध्ययन में पता लगा है कि अमेरिका में रहने के लिए सबसे ज्यादा भारतीय लोगों दिलचस्पी दिखा रहे हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2005 से 2015 के बीच प्रवासी भारतीयों ने अमेरिकी नागरिकता हासिल करने में सर्वाधिक दिलचस्पी दिखाई।

पेव रिसर्च सेन्टर ने बताया कि 2015 तक कम से कम 80 प्रतिशत प्रवासी भारतीयों ने अमेरिकी नागरिकता हासिल करने में दिलचस्पी दिखाई।

ये भी पढ़ें- अमेरिका के लिए खड़ा हुआ आर्थिक संकट, कभी भी हो सकता है 'शटडाउन'

वहीं 2005 में यह आंकड़ा 69 प्रतिशत था। 10 वर्षों में इसमें 12 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। भारत के साथ ही इक्वाडोर के लोगों ने भी अमेरिकी नागरिक बनने में दिलचस्पी दिखाई है।

इक्वाडोर में भी इसी अवधि में अमेरिकी नागरिकता हासिल करने वालों की संख्या में 12 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

पेव ने कहा कि वर्ष 2005 से 2015 तक भारत से अमेरिका की नागरिकता लेने के पात्र आव्रजकों की संख्या 12 फीसदी की वृद्धि के साथ सर्वाधिक, 80 प्रतिशत रही है।

ये भी पढ़ें- लाभ का पद: टूट के कगार पर आम आदमी पार्टी, आप प्रवक्ता ने इसे ठहराया जिम्मेदार

अमेरिकी नागरिकता हासिल करने के लिए प्रवासी को कम से कम 18 वर्ष का होना चाहिए, वैध स्थाई निवासी के तौर पर वह देश में कम से कम पांच वर्ष रह चुका हो अथवा अमेरिकी नागरिक से उसके विवाह को तीन वर्ष बीत चुके हों।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story