logo
Breaking

भाजपा सांसद हुकुम सिंह की अंतिम यात्रा में शामिल हुए सीेएम योगी, थोड़ी देर में अंतिम संस्कार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर शोक जताया है।

भाजपा सांसद हुकुम सिंह की अंतिम यात्रा में शामिल हुए सीेएम योगी, थोड़ी देर में अंतिम संस्कार

उत्तर प्रदेश के कैराना से भाजपा सांसद हुकुम सिंह का शनिवार की रात निधन हो गया। हुकुम सिंह ने नोएडा के जेपी अस्पताल में अंतिम सांस ली। वे लंबे समय से बीमार थे और उनके कई अंगों ने एकसाथ काम करना बंद कर दिया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक प्रकट करते हुए ट्विटर पर कहा कि सांसद और उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ नेता श्री हुकुम सिंह जी के निधन से दुखी हूं।

इसे भी पढ़ेंः जम्मू कश्मीर: एनआईए का दावा, पत्थरबाजी की घटनाएं अलगाववादी ताकतों की साजिश

उन्होंने पूरी निष्ठा के साथ उत्तर प्रदेश के लोगों की सेवा की और किसानों के कल्याण के लिए काम किया। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और समर्थकों के साथ है।

हुकुम सिंह मुजफ्फरनगर जिले के कैराना में ही रहते हैं. उनका जन्म 5 अप्रैल 1938 को हुआ था। बचपन से ही वह पढ़ाई में काफी होशियार थे। कैराना में इंटर की पढ़ाई के बाद आगे की पढ़ाई के लिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय भेजा गया।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि सिंह के निधन से पार्टी को अपूरणीय क्षति हुई है। सिंह उत्तर प्रदेश से सात बार विधायक रहे और 2014 के चुनावों में लोकसभा में प्रवेश से पहले राज्य में मंत्री थे।

कांग्रेस से शुरू किया राजनीतिक सफर

बाबू हुकुम सिंह की पहचान पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बड़े ओबीसी गुर्जर नेता के रूप में थी। उनकी लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वह पहले कांग्रेस और फिर भाजपा से सात बार विधायक चुने गए। 1974 में पहली बार कांग्रेस से चुनाव लड़ा था। 1996 में भाजपा में शामिल हुए और लगातार चौथी बार विधायक बने थे।

Loading...
Share it
Top