Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसानों के लिए खुशखबरी: मौसम विभाग ने जारी किया बारिश सामान्य होने का अनुमान

मौसम विभाग ने जून से सितंबर महीने के लिए जारी किए गए अनुमान में विभाग ने 97 फीसदी बारिश होने की बात कही है। इसमें 4 फीसदी कमी या बढ़ोतरी हो सकती है।

किसानों के लिए खुशखबरी: मौसम विभाग ने जारी किया बारिश सामान्य होने का अनुमान

मौसम विभाग (आईएमडी) द्वारा बुधवार को दक्षिण-पश्चिमी मानसून के बारे में दीर्घावधि पूर्वानुमान जारी किए गए। इसमें देश में सामान्य बारिश होने की संभावना जाहिर की गई है। बारिश सामान्य होंगे तो जाहिर है इसका असर खेत-खलिहानों पर फसल की बेहतर उत्पादकता पर होगा। देश का अन्नभंडार भरेगा।

मौसम विभाग ने मात्रात्मक रुप से जून से सितंबर महीने के लिए जारी किए गए इस अनुमान में विभाग ने 97 फीसदी बारिश होने की बात कही है। इसमें 4 फीसदी कमी या बढ़ोतरी हो सकती है। केरल में मानसून ने 29 मई को दस्तक दे दी है। राजधानी दिल्ली में मानसून जून के अंत तक आने की उम्मीद है।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक देश के चार महत्वपूर्ण रीजन के हिसाब से उत्तर-पश्चिम भारत में 100 फीसदी, केंद्रीय भारत में 99 फीसदी, साउथ पेंनेनसुला में 95 फीसदी और उत्तर-पूर्व में 93 फीसदी बारिश होने की संभावना जतायी गई है।

मौसम विभाग अलग-अलग रीजन को मिलाकर इसे 100 फीसदी बारिश भी कह रहा है, जिसमें 8 फीसदी ऊपर-नीचे हो सकता है। जुलाई महीने में आईएमडी ने दीर्घावधि के हिसाब से देशभर में 101 प्रतिशत बारिश होने की संभावना जाहिर की है।

इसके अलावा अगस्त में 94 फीसदी बारिश होने की उम्मीद है। इसमें 9 फीसदी कम-ज्यादा हो सकता है। गौरतलब है कि इससे पहले बीते 16 अप्रैल को मौसम विभाग की ओर से मानसून को लेकर पहला फोरकास्ट जारी किया गया था। अब दूसरे चरण का दीर्घावधि फोरकास्ट जारी किया गया है।

इसमें जून से सितंबर महीने में मानसून सीजन के दौरान देश में होने वाली वर्षा और देश के चार रीजन में बारिश की मात्रा के बारे में आंकड़ों के साथ संभावना जतायी गई है।

इस फोरकास्ट को तैयार करने के लिए विभाग ने 6- पैरामीटर स्टेटिटकल एनसेबल फोरकॉस्टिंग सिस्टम (एसईएफएस) और ऑपरेशनल मानसून मिशन क्लाइमेट फोरकास्ट सिस्टम (एमएमसीएफएस) का प्रयोग किया गया है। सामान्य वर्षा को आईएमडी को 96 से 104 फीसदी के फॉम्युले के तहत परिभाषित करता है।

कर्नाटक-तमिलनाडु की ओर बढ़ा

दक्षिण-पश्चिम मानसून इस साल 3 दिन पहले केरल पहुंचा। ये करीब-करीब पूरे केरल को कवर चुका है। मानसून अब कर्नाटक के तटीय क्षेत्रों और तमिलनाडु की ओर बढ़ रहा है।

मेंगलुरु और उडुपी में बाढ़

कर्नाटक के मेंगलोर और उडुपी में 34 सेंटीमीटर तक बारिश दर्ज की गई। मेंगलोर के पनामबुर में 33.4 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई। अधिकारियों के मुताबिक, पनामबुर में बारिश ने 36 साल का रिकॉर्ड तोड़ा। उदयनगर में बारिश के दौरान हादसे में एक महिला की मौत की भी खबर है।

उत्तर भारत में राहत नहीं

जहां एक ओर केरल में मानसून ने तीन दिन पहले ही दस्तक दे दी है। लेकिन उत्तर भारत के राज्यों को गर्मी से राहत मिलती नहीं दिख रही है। मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चार-पांच दिन अभी मौसम ऐसा ही रहने का अनुमान है।

राजस्थान के 6 शहरों में पारा 46 डिग्री के पार है। गंगानगर में पारा 49 डिग्री के करीब पहुंच गया। मध्य प्रदेश का ग्वालियर राज्य का सबसे गर्म शहर रहा। यहां बुधवार को पारा 46.4 डिग्री तक पहुंच गया।

Next Story
Top