Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंकी फीवर का कहर, अबतक 11 लोगों की मौत

पिछली बार इस बीमारी से 8 लोगों की मारे जाने की खबर थी।

मंकी फीवर का कहर, अबतक 11 लोगों की मौत

मंकी फीवर के नाम से जाने जाने वाले कश्यनूर फॉरेस्ट डिसीज (केएफडी) के कारण इस साल महाराष्ट्र में 11 लोगों के मारे जाने का दावा किया गया है।

स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, सभी पीडित सिंधुदुर्ग जिले के हैं और जनवरी से मई के बीच वायरल संक्रमण के कारण ये मौतें हुई। सिंधुदुर्ग जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर योगेश साडे के मुताबिक, पिछले साल जब आठ लोगों की मौत हो गयी थी, उस समय मंकी फीवर मामले का पता चला था।

इस साल बीमारी के कारण मरने वालों की संख्या बढ कर 11 हो गयी। उन्होंने को बताया कि गत वर्ष 128 की तुलना में इस साल राज्य में इसकी संख्या बढ कर 187 हो गयी।

साडे ने बताया कि हर साल यह संक्रमण नवंबर में बढता है और मई या पहली बरसात के आगमन तक इसका असर रहता है। केएफडी एक पिस्सू-जनित रक्तस्रावी वायरल बुखार है जो दक्षिण एशिया में पायी जाती है।

Next Story
Top