Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मनी लॉन्ड्रिंग केस: मीसा और उनके पति शैलेश को मिली जमानत, कोर्ट ने रखी शर्त

लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश यादव को मनी लॉन्ड्रिंग केस के मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने दो लाख रुपये के निजी मुचकले पर जमानत दे दी है।

मनी लॉन्ड्रिंग केस: मीसा और उनके पति शैलेश को मिली जमानत, कोर्ट ने रखी शर्त

लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश कुमार को मनी लॉन्ड्रिंग केस के मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने दो लाख रुपये का निजी मुचकले पर जमानत दे दी है। कोर्ट ने दोनों को आदेश दिया है कि वह बिना अदालत की इजाजत के देश छोड़कर नहीं जा सकते है।

यह केस मिशैल पैकर्स एंड प्रिंटर्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर दिल्ली में एक फार्म हाउस को खरीदने से जुड़ा है और ईडी ने इस मामले में मीसा भारती से पूछताछ की है।

ये भी पढ़े: TMC सांसद ने की भविष्यवाणी, कहा-15 अगस्त को आखिरी बार झंडा फहराएंगे पीएम मोदी

वहीं, दूसरी तरफ मीसा भारती ने कहा है कि उनकी कंपनी उनके पति और सीए चला रहे थे और अब उनके सीए की मृत्यु हो चुकी है। इस मामले पर ईडी ने कहा है कि मुखौटा कंपनियों की मदद से 1.2 करोड़ रुपयों की मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में मीसा भारती और उसका पकि शमिल थे।

ये भी पढ़े: SSC पेपर लीक: CBI करेगी मामले की जांच, छात्रों से धरना स्थगित करने की अपील

बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय ने मीसा और उनके पति के खिलाफ दिसंबर में आरोप पत्र दर्ज किया था। दिल्ली के एक कोर्ट ने आरोपी दांपत्ति के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के केस में आरोपी माना और मनी लॉन्ड्रिंग निरोधक कानून के तहत दोनों को समन भेजा।

आरोप पत्र में लिखा था कि मीसा ने सारे जवाब ब्रीफ में दिए थे। वहीं एजेंसी ने कहा था कि कंपनी का सारा काम शैलेश कुमार देख रहे थे जबकि कंपनी का वित्तीय ब्यौरा सीए संदीप शर्मा देख रहा था और अब उनकी मृत्यु हो चुकी है।

Next Story
Top