Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोदी वही कर रहे हैं जो देश के लिए सही है: नीति आयोग

नीति आयोग के वीसी राजीव कुमार ने कहा कि देश में जीएसटी जैसे रिफॉर्म्स की दरकार है।

मोदी वही कर रहे हैं जो देश के लिए सही है: नीति आयोग

नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार ने कहा कि वक्त आ गया है कि जीएसटी-बेनामी कानून जैसे रिफॉर्म्स को सोशल सेक्टर में कामयाबी से लागू कराने पर फोकस किया जाए, इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाएंगे, ताकि इनके मनमाफिक नतीजे मिल सकें।

सरकार के बाकी 18 महीने के दौरान हेल्थ और एजुकेशन सिस्टम में सुधार को लेकर काम करेंगे। इम्प्लॉइमेंट में काफी बढ़ोतरी हुई और इसके सबूत हैं। रोजगार देने में कमी आई और इस पर चिंता जाहिर करना अतिश्योक्तिपूर्ण है। सरकार सिर्फ वही कर रही है, जो देशहित में है।

फॉरेन करंसी रिजर्व है

राजीव कुमार ने कहा कि साल के पहले क्वार्टर में चालू वित्तीय घाटा 2.4% बढ़ा है। इससे भी चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि हमारे पास मजबूत फॉरेन करंसी रिजर्व है।'

कई बड़े सुधार हुए

गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी), बेनामी प्रॉपर्टी ट्रांजैक्शन एक्ट और डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर स्कीम सरकार के बड़े रिफॉर्म्स हैं। हमें अब सोशल सेक्टर में इन्हें कामयाबी से लागू कराने पर फोकस करना है। इसके लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे। सरकार के बाकी 18 महीनों में हेल्थ और एजुकेशन सेक्टर पर फोकस करेंगे।'

रोजगार के मुद्दे पर ये कहा

राजीव कुमार ने कहा कि बड़े पैमाने पर रोजगार के मौके बढ़े हैं। ईपीएफओ और नेशनल पेंशन स्कीम अकाउंट्स बढ़े हैं। सर्विस सेक्टर खास तौर से टूरिज्म, सिविल एविएशन और ट्रांसपोर्ट सेक्टर में में उछाल आया है। कहना चाहता हूं कि रोजगार के मौकों में कमी आने की कहानी पूरी तरह से अतिश्योक्तिपूर्ण है।

सरकार वही करती है जो सही हो

कुमार ने कहा कि सरकार वही करती है, जो देश के लिए सही है। ऐसे फैसले चुनाव को देखते हुए नहीं लिए जाते। केंद्र सरकार ने किसी भी तरीके से जनता को लुभाने में भरोसा नहीं किया। ऐसा आगे देखने भी नहीं मिलेगा। पीएम ने साफ कहा है कि सिर्फ वहीं करो, जो देश हित में है।

इकोनॉमी में हो रहा बदलाव

इकोनॉमी के मौजूदा हालात पर नीति आयोग के वीसी ने कहा कि मूडीज ने रेटिंग बढ़ाई है। ये साफ संकेत है कि देश की इकोनॉमी में बदलाव हो रहा है। इन्वेस्टमेंट के साथ इकोनॉमी भी बढ़ रही है। हालांकि, एक्सपोर्ट सेक्टर में थोड़ी कमजोरी बनी हुई है, यह थोड़ा चिंताजनक है।

Share it
Top