Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Modi Interview : नए साल पर मोदी का इंटरव्यू, राम मंदिर समेत दिए इन सवालों के जवाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राम मंदिर पर अध्यादेश नहीं लाया जाएगा। कानूनी प्रक्रिया से मामला सुलझाया जाएगा। इस पर कोर्ट के फैसले का इंतजार किया जाएगा।

Modi Interview : नए साल पर मोदी का इंटरव्यू, राम मंदिर समेत दिए इन सवालों के जवाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि राम मंदिर पर अध्यादेश नहीं लाया जाएगा। कानूनी प्रक्रिया से मामला सुलझाया जाएगा। इस पर कोर्ट के फैसले का इंतजार किया जाएगा।

नए साल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक न्यूज एजेंसी को पहला इंटरव्यू दिया। इस इंटरव्यू में पीएम मोदी ने कई मुद्दों पर अपनी बात रखी।

पीएम मोदी ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए कोई अध्यादेश तभी लाया जा सकता है, जब इस पर कानूनी प्रक्रिया पूरी हो जाए। उन्होंने राम मंदिर पर अदालती कार्यवाही में देरी को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वकील सुप्रीम कोर्ट में बाधाएं उत्पन्न कर रहे हैं, इसके चलते राम मंदिर मसले की सुनवाई की गति धीमी हो गई है।
राम मंदिर के अब भी भाजपा के लिए इमोशनल मुद्दा होने के सवाल पर मोदी ने कहा, हमने अपने मेनिफेस्टो में हमने कहा था कि इस मसले का समाधान संवैधानिक तरीके से किया जाएगा।
भाजपा ने लोकसभा चुनाव के अपने घोषणापत्र में कहा था कि वह अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण चाहती है।
बता दें कि बीते कुछ दिनों में पार्टी के भीतर से ही और आरएसएस के द्वारा यह कहा जाता रहा है कि राम मंदिर निर्माण के लिए जल्द रास्ता साफ होना चाहिए। आरएसएस से जुड़े संगठन बीते कुछ दिनों से तीन तलाक पर जारी अध्यादेश की ही तर्ज पर राम मंदिर निर्माण के लिए भी ऑर्डिनेंस जारी करने की मांग कर रहे हैं।
यहां तक कि भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने भी राम मंदिर के लिए अध्यादेश की मांग की है।
पीएम मोदी ने अध्यादेश के सवाल पर सीधे तौर पर कहा कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है और संभवत: आखिरी चरण में है।
गौरतलब है कि राम मंदिर के मसले पर 4 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई की मांग के लिए याचिका दाखिल की गई है।
तीन तलाक धार्मिक आस्था का नहीं
इस्लामिक देशों में तीन तलाक पर बैन लगाया है। इसलिए यह आस्था, धर्म का मामला नहीं है। पाकिस्तान में भी इस पर रोक है। यह सामाजिक न्याय का मसला बनता है, धार्मिक आस्था का नहीं। भारत में मत रहा है कि सभी को समान हक मिलना चाहिए।
नोटबंदी कोई झटका नहीं
नोटबंदी कोई झटका नहीं था, हमने एक साल पहले ही जनता को बता दिया था कि अगर आपके पास काला धन है तो जमा कर दीजिए, कुछ जुर्माना भर दीजिए। लेकिन उन्हें लगा कि मोदी भी बाकियों की तरह ऐसे ही बोल रहे हैं।

सर्जिकल स्ट्राइक बड़ा फैसला
सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर पीएम मोदी ने कहा कि एक लड़ाई से पाकिस्तान सुधर जाएगा यह सोचना बहुत बड़ी गलती है, उसे सुधारने के लिए हमें और समय चाहिए। सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला एक बड़ा रिस्क था, लेकिन मुझे अपने सैनिकों की बेहद फिक्र थी।

मॉब लिंचिंग निंदनीय
लिचिंग जैसी घटनाएं सभ्य समाज को शोभा नहीं देता, गलत है निंदनीय है। लेकिन ऐसा क्या 2014 के बाद ही हुआ। ये समाज के अंदर से हुआ। हम सबको मिलकर काम करना होगा। इस सरकार या उस सरकार को करना चाहिए इसमें नहीं पड़ना चाहता, एक भी घटना हुई है तो निंदनीय है।
Loading...
Share it
Top