Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

टेलिकॉम स्पेक्ट्रम: केंद्र सरकार करेगी अब तक की सबसे बड़ी नीलामी

केंद्रीय टेलिकॉम मंत्री मनोज सिन्हा ने इस मुद्दे पर कहा, आगामी नीलामी में 3,000 मेगाहार्ट्ज से ज्यादा के स्पेक्ट्रम की पहली बार नीलामी की जाएगी।

टेलिकॉम स्पेक्ट्रम: केंद्र सरकार करेगी अब तक की सबसे बड़ी नीलामी

केंद्र सरकार अबतक की सबसे बड़ी स्पेक्ट्रम नीलामी कराने जा रही है। इसमें 30,00 मेगाहार्ट्ज के रेडियवेव्स की नीलामी की जाएगी। केंद्र सरकार ने इस मुद्दे पर संसद को जानकारी दी।

केंद्रीय टेलिकॉम मंत्री मनोज सिन्हा ने इस मुद्दे पर कहा, आगामी नीलामी में 3,000 मेगाहार्ट्ज से ज्यादा के स्पेक्ट्रम की पहली बार नीलामी की जाएगी।

पिछली बार 2016 में ऐसी ही नीलामी हुई थी जिसमें 2,354.55 मेगाहर्ट्ज के एयरवेव्स की नीलामी की गई थी, इसमें 700 मेगाहार्ट्ज , 800 मेगाहार्ट्ज, 1800 मेगाहार्ट्ज, 2100 मेगाहार्ट्ज के सभी बैंड्स में नीलामी हुई है।

इसे भी पढ़ें- बजट 2018-19: सरकार ने टेलीकॉम सेक्टर को दिया बड़ा तोहफा, रखा 49 करोड़ का बजट

इसका बेस प्राइस 5.63 लाख करोड़ रखा गया था। इस ऑक्शन में लगभग 60 प्रतिशत रेडियोवेव्स की नीलामी नहीं हो पाई थी।

मनोज सिन्हा ने आगे बताया, टेलिकॉम मिनिस्ट्री ने टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) से रिजर्व प्राइस और नीलमी से जुड़े अन्य मुद्दों पर सलाह मांगी है।

इसे भी पढ़ें- 2जी घोटाले पर पूर्व संचार मंत्री ने लिखी किताब, मनमोहन सिंह, विनोद राय को लेकर किया ये खुलासा

इस बार की नीलामी में 700 मेगाहार्ट्ज, 800 मेगाहार्ट्ज, 900 मेगाहार्ट्ज, 1800 मेगाहार्ट्ज, 2100 मेगाहार्ट्ज, 2300 मेगाहार्ट्ज, 2500 मेगाहार्ट्ज, 3300-3400 मेगाहार्ट्ज और 3400-3600 मेगाहार्ट्ज के फ्रीक्वेंसी बैंड्स की नीलामी की जानी है।

5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी के एक सवाल पर सिन्हा ने कहा, ' 5जी टेक्नॉलजी से संबंधित स्टैंडर्डाइजेशन का काम इंटरनैशनल टेलिकॉम यूनियन (आईटीयू) के पास चल रहा है। इसका नाम 'इंटरनैशनल मोबाइल टेलिकम्यूनिकेशन 2020' रखा गया है।

Next Story
Top