Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोदी के हमशक्ल कांग्रेस में शामिल, बोले ''अच्छे दिन'' नहीं आएंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे दिखने वाले अभिनंदन पाठक उनकी ही तरह कपड़े पहनते हैं और उनके ही अंदाज में बोलते भी हैं।

मोदी के हमशक्ल कांग्रेस में शामिल, बोले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे दिखने वाले अभिनंदन पाठक उनकी ही तरह कपड़े पहनते हैं और उनके ही अंदाज में बोलते भी हैं। वह अपनी बातों की शुरुआत भी मित्रों बोलकर करते हैं, लेकिन इस कहानी में रोचक तथ्य यह है कि वह भाजपा के खिलाफ कांग्रेस के लिए प्रचार कर रहे हैं।

पाठक छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र में कांग्रेस के प्रचारक हैं जो कहते हैं अच्छे दिन नहीं आएंगे। पाठक पिछले महीने कांग्रेस नेता राज बब्बर की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए थे। इससे पहले तक वह भाजपा नीत राजग के घटक दल ‘रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले) के सदस्य थे और उत्तर प्रदेश में इसके प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर तैनात थे।

पाठक ने एक न्यूज एजेंसी से कहा कि चूंकि मैं मोदी जी जैसा दिखता हूं, लोग हमेशा मुझसे पूछेंगे कि अच्छे दिन कहां हैं, जिनका वादा मोदी जी ने 2014 लोकसभा चुनावों से पहले किया था। आम आदमी की समस्याओं को देखकर दुखी होकर मैं पिछले महीने भाजपा का सहयोगी दल छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गया।

यह भी पढ़ें- दिल्ली: दिवाली पर आग लगने की 300 घटनाएं, इतनों की हुई मौत

जगदलपुर, दंतेवाड़ा, कोंडागांव और बस्तर सहित क्षेत्र की विभिन्न सीटों पर कांग्रेस के लिए प्रचार कर रहे पाठक स्थानीय लोगों के बीच आकर्षण का केन्द्र हैं और लोग उनके साथ खूब सेल्फी खिंचा रहे हैं। अपने प्रचार अभियान के दौरान, पाठक अच्छे दिन के वादों तथा विदेश में जमा काला धन वापस लाकर हर भारतीय के बैंक खाते में 15 लाख रुपये जमा करने की बात कहते हुए प्रधानमंत्री की शैली की नकल उतारकर उन्हें निशाना बनाते हैं।

उन्होंने यहां एक स्थानीय बाजार में छोटे जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि मित्रों, मैं यहां आपको यह सच बताने आया हूं कि अच्छे दिन नहीं आने वाले हैं। यह झूठा वादा था और कृपया कांग्रेस को वोट दीजिए जो आपके लिए विकास सुनिश्चित करे। पाठक ने दावा किया कि वह 2014 से पहली बार भाजपा और मोदी के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं।

अब तक वह केवल भाजपा और उसके सहयोगी दलों के लिए प्रचार करते थे। पिछले लोकसभा चुनावों में, पाठक सहित मोदी के कई हमशक्ल थे जो देश के विभिन्न भागों में चुनाव प्रचार करते हुए दिखते थे। हालांकि, कांग्रेस की टिकट पर फिर से चुनाव लड़ रहीं कांग्रेस की वर्तमान विधायक देवती कर्मा ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि कोई मोदी का हमशक्ल उनके लिए प्रचार कर रहा है।

सलवा जुडूम के संस्थापक दिवंगत महेंद्र कर्मा की पत्नी देवती ने कहा कि वह अपने दिवंगत पति के नाम पर वोट मांग रही हैं। गौरतलब है कि छत्तीसगढ में इन दिनों चुनावी माहौल है और बस्तर क्षेत्र की 12 विधानसभा सीटों के लिए मतदान 12 नवंबर को होगा।

Next Story
Top