Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

70 साल पुरानी बीमारी का उपाय है ''कैशलेस सोसायटी'': पीएम मोदी

मोदी ने कहा कि आर्थिक तबीयत सुधारने के लिए यह दवाई दी है।

70 साल पुरानी बीमारी का उपाय है
बेलगाम. देश में नोट बंदी पर विरोधियों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने गोवा के बाद बेलगाम में अपना पक्ष रखा। मोदी ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस ने 70 साल से भ्रष्टाचार की बीमारी फैलाई हुई है जिसे जड़ से ख़त्म करना है। ये 70 साल की बीमारी काफी गहरी है जिसे थोड़ा-थोड़ा डोज देकर खत्म किया जा रहा है। लेकिन अब इस भ्रष्टाचार को एक बड़ा डोज देकर खत्म करने के लिए हमने एक उपाय निकल है और वो है 'कैशलेश सोसायटी'।
बईमानों की खेर नहीं
मोदी ने कहा कि मुझे पता है कि मेरे निर्णय से पेन है, लेकिन देश को गेन ज्यादा है। मैंने ईमानदारी की दिशा में ये कदम उठाया है और मैं इसके लिए देश की जनता को धन्यवाद देना चाहता हूं कि वो मेरे साथ खड़ी है। मेरी सरकार गरीबों के लिए हैं, मैं देश के गरीबों की मदद करना चाहता हूं और इसके लिए मैं हर संभव प्रयास करूंगा। बेईमान लोग यह कान खोलकर सुन लें कि 30 दिसंबर के बाद हम ठहरने वाले नहीं हैं।
राहुल पर भी साधे निशाने
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी हाल ही में नोट बदलवाने के लिए बैंक के बाहर लाइन में लगे थे। कांग्रेस और राहुल पर अप्रत्यक्ष तौर पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, '70 साल हो गए। आप मुझे बताएं कि देश को लूटा गया कि नहीं? भ्रष्‍टाचार हुआ है कि नहीं? आपने देखा 2012, 2013, 2014 में अखबारों में खबरें आती थीं, कोयले में इतने लाख करोड़ खा गए। 2जी स्कैम में इतने लाख करोड़ खा गए। आठ तारीख के बाद आपने उनका हाल देखा। चार हजार रुपये के लिए कतार में खड़ा रहना पड़ा।' मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ईमानदार इंसान को परेशान करना नहीं चाहती है लेकिन बेईमान को छोड़ना भी नहीं है। कांग्रेस से पूछे ये सवाल
मोदी ने कहा, 'मैं हैरान हूं कि हमारे कांग्रेस के लोग कह रहे हैं कि हजार के नोट बंद क्यों कर दिया? आपने चवन्‍नी बंद की, मैंने पूछा था? इस देश में कोई चिल्लाहट नहीं हुई। आपकी ताकत उतनी ही थी। मेरी ताकत हजार का नोट बंद करने की थी।' मोदी के मुताबिक, उन्होंने काफी पहले ही अपने भाषणों में इस बात का जिक्र किया था कि उनका बस चलने पर वह हजार का नोट बंद देंगे। मोदी ने यह भी कहा कि उन्होंने इस फैसले का ऐलान करते वक्त ही यह साफ कर दिया था कि इससे लोगों को दिक्कत होगी। लेकिन आने वाले समय में लोग हमारी सरकार के इस कदम को सरहाना मिलेगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top