Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सपा कुनबे पर आरोप लगाने वाले MLC उदयवीर सिंह की पार्टी से छूट्टी

अखिलेश की सौतेली मां पर आरोप लगाने वाले एमएलसी उदयवीर को पार्टी से 6 साल के लिए बाहर निकाला

सपा कुनबे पर आरोप लगाने वाले MLC उदयवीर सिंह की पार्टी से छूट्टी
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के भीतर पहले से मचा घमासान अब और अधिक गहराता जा रहा है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग करने वाले विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) उदयवीर सिंह को समाजवादी पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। उदयवीर सिंह की चिट्ठी सामने आने के बाद से ही माना जा रहा था कि जल्द ही उनपर कार्यवाही की जा सकती है। आज सपा प्रदेश अध्यक्ष ने उन्हें पार्टि से निष्कासित कर दिया।
गौरतलब है कि अखिलेश यादव के करीबी और एमएलसी उदयवीर सिंह ने बुधवार को ही सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को चिट्ठी लिखकर इस बात की मांग की है कि वे खुद पार्टी के संरक्षक बनें और अपनी कुर्सी (वर्तमान में राष्ट्रीय अध्यक्ष) अपने बेटे सीएम अखिलेश को सौंप दें। उदयवीर सिंह ने अपनी चिट्ठी में यह भी लिखा कि परिवार के भीतर से भी अखिलेश यादव के खिलाफ साजिश हो रही है और शिवपाल यादव इसमें शामिल हैं। सपा के एक विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) ने बातचीत के दौरान बताया कि उदयवीर के खिलाफ ज्ल्द ही कार्रवाई होगी. प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव की तरफ से यह कार्रवाई की जाएगी।
बता दें कि कुछ पहले ही अखिलेश यादव ने ऐलान कर कहा था कि वो 3 नवंबर से चुनाव प्रचार के लिए अपनी रथ यात्रा शुरू करेंगे। 5 नवंबर को सपा की स्थापना के 25 वर्ष पूरे होने के मौके पर राजधानी में रजत जयंती समारोह का आयोजन किया जा रहा है। रजत जयंती समारोह मनाने की जिम्मेदारी विवादों में घिरे मंत्री गायत्री प्रजापति को सौंपी गई है, जिन्हें अखिलेश यादव ने अपने मंत्रिमंडल से बाहर निकाल दिया था। लेकिन बाद में मुलायम ने फिर से उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया है।
Next Story
Share it
Top