Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बन गया है ''मेल पर्सनल लॉ बोर्ड'': एम. जे. अकबर

इस्लाम ने कभी भी महिलाओं के उत्पीड़न की बात नहीं की है।

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बन गया है
नई दिल्ली. 'तीन तलाक' के मुद्दे पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को निशाना बनाते हुए विदेश राज्यमंत्री एम. जे. अकबर ने शनिवार को आरोप लगाया कि संगठन 'मेल पर्सनल लॉ बोर्ड' बन गया है जो केवल महिलाओं के उत्पीड़न में रुचि रखता है।' अकबर ने यहां एक कार्यक्रम में कहा, 'इस्लाम में लैंगिक समानता की बात है न कि लैंगिक उत्पीड़न का। इस्लाम ने कभी भी महिलाओं के उत्पीड़न की बात नहीं की है। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड मेल पर्सनल लॉ बोर्ड बन गया है।'
पिछल महीने AIMPLB द्वारा 'तीन तलाक' के समर्थन में आयोजित सम्मेलन पर अकबर ने कहा, 'बड़ी संख्या में लोगों के एकजुट होने से सच्चाई नहीं झलकती।' सम्मेलन में काफी संख्या में लोग एकजुट हुए थे। ‘तीन तलाक’ को हटाने की अपील करते हुए अकबर ने कहा, 'कभी-कभी शादी ठीक से नहीं चलती इसलिए तलाक की व्यवस्था है, लेकिन मुस्लिम समुदाय में शादी करते हुए आपको महिला से अनुमति की जरूरत होती है। तो फिर तलाक के दौरान पुरुष ही क्यों शर्त तय करे।'
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, अकबर ने कहा कि अगर देश को आगे बढ़ना है और अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ना है तो हमें महिलाओं को साथ लेकर चलने की जरूरत है। उन्होंने कहा, 'भारत और इसकी अर्थव्यवस्था कभी आगे नहीं बढ़ेगी अगर आप महिलाओं को पीछे रखना चाहते हैं। महिलाएं हमारी आबादी का लगभग 50 फीसदी हैं और हम सभी को मिलकर आगे बढ़ना होगा।'
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top