Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मानुषी छिल्लर ने हरियाणा और खाप पंचायत को लेकर कही ये बड़ी बात

मानुषी छिल्लर ने कहा कि मैं अब ऐसी चीजें देखती हूं तो मुझे बहुत हंसी आती है। ।

मानुषी छिल्लर ने हरियाणा और खाप पंचायत को लेकर कही ये बड़ी बात

मानुषी छिल्लर ने जब मिस वर्ल्ड 2017 का खिताब जीता तो उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं था, मानुषी ने हाल ही में चीन के सान्या में एक शानदार कार्यक्रम में यह प्रतिष्ठित खिताब जीता।

हरियाणा की 20 वर्षीय मेडिकल छात्रा ने कहा कि मैं इस बात से इनकार नहीं करती कि मैंने वह वीडियो कई बार देखा। मैं अब भी रोमांचित हूं, लेकिन मैं सोचती हूं कि कश मैं और अधिक प्रभावशाली प्रतिक्रिया दे पाती।

मानुषी ने कहा कि यह ऐसी चीज थी जो स्वत: आती है। अब मैं इसे देखती हूं तो मुझे हंसी आती है। इससे पहले वर्ष 2000 में प्रियंका चोपड़ा ने मिसवर्ल्ड का खिताब जीता था। प्रियंका से पहले 1999 में युक्ता मुखी ने यह खिताब जीता था।

इसे भी पढ़ें: Miss World मानुषी छिल्लर ने 'पद्मावती' पर दिया ये बड़ा बयान

मानुषी इस खिताब को जीतने के बाद कांग्रेस सांसद शशि थरुर द्वारा उनके उपनाम को गलत ढंग से पेश करने को लेकर सुर्खियों में आई थीं।

थरूर ने कहा था कि नोटबंदी हमारी भूल है। भाजपा को अहसास करना चाहिए कि भारतीय नकद विश्व पर छाया हुआ। यहां तक कि 'चिल्लर' भी मिसवर्ल्ड बन गई। '

उनकी इस टिप्पणी से राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया था। हालांकि मानुषी ने अपने ट्वीट में इसे यह कहते हुए तूल नहीं दिया कि मजाक में ऐसा हो गया।

इसे भी पढ़ें: मानुषी छिल्लर के ताज की कीमत सुनकर रह जाएंगे दंग, जानें किसने बनाया

मानुषी छिल्लर ने कहा कि मिस वर्ल्ड बनना मेरे लिए बहुत ही खास है। लेकिन हरेक का मजाक का अपना तरीका है। मैं खुश हूं कि मैं लोगों को हास्य की अपनी धारा में जगह दी।

मानुषी की जीत के बाद हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और वर्तमान मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बीच मानुषी को सम्मानित करने के विषय पर वाकयुद्ध छिड़ गया था।

हुड्डा ने सुझाव दिया कि राज्य सरकार उसे इस खिताब को जीतने पर छह करोड़ रुपए और एक बंगला दे। उस पर खट्टर ने कहा कि उनकी सोच बस पैसे और बंगला तक सीमित है। व्यक्ति को उससे ऊपर भी सोचना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: एक मिनट में ऐसे बुक करें तत्काल टिकट

इस संबंध में मानुषी ने कहा कि मैं समझती हूं कि यह पूरी तरह हरियाणा पर निर्भर करता है कि वह मुझे क्या देना चाहता है और क्या नहीं। मैं बस खुश हूं कि मैं उन्हें यह जीत दे पाई। मुझे विश्वास है कि मेरी ये जीत हरियाणा को केंद्र में ला देगी।

मानुषी छिल्लर ने कहा कि हरियाणा में पहले से ही काफी सकारात्मक बदलाव हो रहा है। मेरे पैतृक गांव में खाप पंचायत ने शादियों में गोलियां चलाने की प्रथा रोक दी है।

मानुषी ने कहा कि मैं बस 20 साल की सामान्य लड़की हूं, लेकिन यह जानना कि मैं ऐसी चीजें कर सकती हूं, मेरे लिए खुशी की बात है। मैंने अपने देश का नाम रोशन किया मुझे ख़ुशी है।

Share it
Top