Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पाव बेचने वाले ने दिया गडकरी को ट्रैफिक में बदलाव का ''आइडिया''

मिसल पाव बेचने वाले चिन्मय कवि ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकत कर सुझाव पत्र सौंपा

पाव बेचने वाले ने दिया गडकरी को ट्रैफिक में बदलाव का

कभी कभी आम आदमी के दिए हुआ आइडिया भी देश को बदल देता है। जैसे कि पीएम मोदी नोटबंदी के लिए दिया गया आइडिया, वैसे ही पुणे के चिंचवड में मिसल पाव बेचने वाले एक केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को ट्रैफिक में सुधार के लिए एक आइडिया दिया है।

पुणे मिरर के मुताबिक, मिसल बेचने वाले चिन्मय कवि ने बीते सोमवार को नितिन गडकरी से मुलाकत की। साथ ही गडकरी से मुलाकात के दौरान एक पत्र भी दिया। इस पत्र में कवि ने सड़क नियमों के पालन में कमियों को दूर करने के लिए कुछ सुझाव दिए हैं।

चिन्मय ने जो पत्र दिया उसमे दिए गए सुझावों को पहले खुद ट्राइ किया। इस दौरान चिन्मय ने जानबूझ कर सीसीटीवी कैमरों के दायरे में आने वाले एक ट्रैफिक सिग्नल का उल्लंघन किया। कवि ऐसा करके देखना चाहता था कि ये कैमरे ठीक से काम रहे हैं या नहीं।

कैमरे तो चल रहे थे साथ ही चिन्मय को चालान भी आया। लेकिन चिन्मय ने जुर्माने की रकम का भुगतान नहीं किया और काफी वक्त बीत जाने के बाद भी किसी ने उससे जुर्माने के भुगतान के लिए संपर्क भी नहीं किया।

साथ ही चिन्मय ने ये भी सुझाव दिया कि ट्रैफिक जुर्माने का भुगतान कार्ड स्वाइप से होना चाहिए। चिन्मय के मुताबिक, कवि के मुताबिक इस व्यवस्था को मजबूत करने के लिए ठेका देकर सीसीटीवी मॉनिटरिंग कराई जाए और जुर्माने की रकम का कुछ हिस्सा ठेकेदारों को दिया जाए।

इस मुलाकात के बाद चिन्मय कवि के ट्रैफिक नियमों के सुझाव को अपने पास रख लिया है। अगर चिन्मय के इस आइडिया पर काम होता है तो इससे कई कमियों में सुधार होगा और साथ ही लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

Next Story
Top