Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मालदीव संकट बढ़ा, संसद पर सेना का कब्जा, सांसदों को बाहर फेंका

मालदीव की राजधानी माले में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। विपक्षी दलों के नेताओं को जहां-तहां नजरबंद किया जा रहा है।

मालदीव संकट बढ़ा, संसद पर सेना का कब्जा, सांसदों को बाहर फेंका

मालदीव में जारी राजनीतिक गतिरोध के बीच बुधवार को सेना ने संसद पर भी कब्जा कर लिया है। सैन्यकर्मियों ने संसद में मौजूद एक-एक सांसद को खींचकर बाहर निकाल दिया।

मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। एमडीपी के महासचिव अनस अब्दुल सत्तार ने लिखा, सुरक्षा बलों ने सांसदों को मजलिस परिसर से बाहर फेंक दिया गया है। चीफ जस्टिल अबदुल्ला सईद सच सामने ला रहे थे और उन्हें भी उनके चैंबर से घसीट कर ले जाया गया।

इसे भी पढ़ें- राजपक्षे की जीत: मालदीव के बाद अब श्रीलंका में चीन ने बढ़ाई भारत की चिंता

इससे पहले मंगलवार को सुरक्षा बलों ने संसद को चारों ओर से घेर लिया था। मंगलवार को सेना ने सांसदों को संसद में घुसने नहीं दिया था। इस राजनीतिक संकट की शुरुआत में मालदीव में राष्ट्रपति अबदुल्ला यामीन और न्यायपालिका के बीच टकराव देखने को मिला था, जिसमें न्यायपालिका को सरेंडर करना पड़ा था।

मालदीव में विपक्षी दलों के नेताओं को भी गिरफ्तार किया गया है। शनिवार को राष्ट्रपति यामीन ने यूरोपियन यूनियन, जर्मनी और ब्रिटेन के प्रतिनिधियों से मिलने से इनकार कर दिया था।

मालदीव में पिछले हफ्ते राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया गया था। संयुक्त राष्ट्र हाई कमिश्नर जीद राद अल हुसैन ने इस आपातकाल को लोकतंत्र पर हमला करार दिया है।

विपक्षी दलों के नेता नजरबंद

मालदीव की राजधानी माले में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। विपक्षी दलों के नेताओं को जहां-तहां नजरबंद किया जा रहा है। इस देश में हालात बिगड़ने तब शुरू हुए थे, जब राष्ट्रपति यामीन के सुप्रीम कोर्ट का आदेश मानने से इनकार कर दिया था।

Next Story
Top