Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेघालय में बहुमत न होने पर भी कांग्रेस ने किया सरकार बनाने का दावा, राज्यपाल को दिया आवेदन

पूर्वोत्तर के मेघालय में कांग्रेस ने सबसे अधिक 21 सीटों पर जीत दर्ज की है। कांग्रेस ने राज्य में सबसे अधिक सीटें तो जीती लेकिन बहुमत के लिए जरूरी 30 सीटों के आकंडें को नहीं छू पाई है।

मेघालय में बहुमत न होने पर भी कांग्रेस ने किया सरकार बनाने का दावा, राज्यपाल को दिया आवेदन

पूर्वोत्तर के मेघालय में कांग्रेस ने सबसे अधिक 21 सीटों पर जीत दर्ज की है। कांग्रेस ने राज्य में सबसे अधिक सीटें तो जीती लेकिन बहुमत के लिए जरूरी 30 सीटों के आकंडें को नहीं छू पाई है।

21 सीटों पर जीत दर्ज करने के बाद कांग्रेस ने राज्यपाल गंगा प्रसाद से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। मेघालय कांग्रेस के अध्यक्ष विंसेंट पाला और कांग्रेस महासचिव सीपी जोशी ने शनिवार देर रात राज्यपाल गंगा प्रसाद से मुलाकात की और सरकार बनाने की दावेदारी वाला लेटर सौंपा।
इस लेटर में लिखा गया है कि राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर बनकर उभरी है। संवैधानिक नियमों के मुताबिक, कांग्रेस को जल्द से जल्द सरकार बनाने के लिए निमंत्रण दिया जाना चाहिए। विधानसभा में तय दिन और समय के अनुसार पार्टी बहुमत सिद्ध कर देगी।

भाजपा सहित ये दल बढ़ाएंगे मुश्किलें

लेकिन भाजपा, नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी मिलकर कांग्रेस के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं। दिलचस्प बात यह है कि एनपीपी और यूडीएफ, दोनों ही केंद्र में एनडीए में शामिल हैं।

भाजपा की बनेगी सरकार

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी कहा है कि मेघालय में भी भाजपा सरकार बनाएगी। वहीं पूर्वोत्तर में भाजपा के कन्वीनर हेमंत बिस्व सरमा ने भी दावा किया कि मेघालय में गैर-कांग्रेसी सरकार बनाई जाएगी।

मेघालय में पार्टियों ने जीती इतनी सीटें

21 - कांग्रेस
19 - नेशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी )
02 - भाजपा
06- यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीएफ)
11- अन्‍य

गोवा और मणिपुर जैसी स्थिति

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस गोवा और मणिपुर में सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी सरकार नहीं बना पाई थी। कांग्रेस अपनी गलती को दोहराना नहीं चाहती है। अपनी पिछली गलतियों से सबक लेकर कांग्रेस ने मेघालय में सरकार बनाने की तैयारी शुरू कर दी है।
Next Story
Top