Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

साम्प्रदायिक हिंसा को लेकर मेरठ में धारा 144 लागू

आसिफ की गिरफ्तारी के बाद फौजी सुनीत को भी पकड़ा गया था।

साम्प्रदायिक हिंसा को लेकर मेरठ में धारा 144 लागू
मेरठ. एक तरफ जहां मध्यप्रदेश की जेल से सिमी आतंकियों की फरारी के बाद मेरठ जेल में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहीं दूसरी तरफ शासन-प्रशासन के निर्देश के बाद धार्मिक, शांति और कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए जिले के 31 थाना क्षेत्रों में दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू कर दी गई है। सभी जिलों में धारा 144 एक नवम्बर से आगामी 15 दिसम्बर तक लागू रहेगी।
जिलाधिकारी बी. चन्द्रकला ने बताया कि भैयादूज, चित्रगुप्त जयन्ती, छठ पूजा, गुरुनानक जयन्ती, कार्तिक पूर्णिमा (गंगा स्नान), गुरुतेग बहादुर शहीदी दिवस एवं ईद-ए-मिलादुन्नवी /बारावफात 01 नवम्बर से 15 दिसम्बर के मध्य मनाये जाएंगे। जिलाधिकारी के अनुसार मेरठ की संवेदनशीलता एवं विभिन्न आयोगों तथा विश्वविद्यालय द्वारा प्रस्तावित प्रतियोगी/वाषिर्क परीक्षाओं तथा विभिन्न संगठनों द्वारा धरना प्रदर्शन के दृष्टिगत अवांछनीय तत्वों द्वारा महानगर की शान्ति एवं कानून व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव डाला जा सकता है और सार्वजनिक उपक्रमों एवं औद्योगिक संस्थानों को क्षति पहुंचायी जा सकती है। उन्होंने कहा कि चूंकि यह जनपद अतिसंवेदनशील है और छोटी..छोटी घटनाओं को लेकर कई बार साम्प्रदायिक रुप से विवाद उत्पन्न होते रहे हैं, इसलिए निषेधाज्ञा लागू की जा रही है।
आपको बता दें, मेरठ जिला कारागार भी पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले और आइएम यानी इंडियन मुजाहिद्दीन के लिए काम करने वाले आतंकी बंद है। इनमें पीएसी मेरठ में बम धमाकों का आरोपी सलीम पतला पहले नंबर पर है। पाकिस्तानी नागरिक एजाज भी इसी सूची में शामिल है। फिलहाल एजाज को कोलकाता पुलिस बी-वारंट पर अपने साथ ले गई है। पाकिस्तानी जासूसों को वर्तमान में हाई सिक्योरिटी बैरकों में रखा जाता है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top