Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राष्ट्रपति चुनाव: ''दलित महिला'' कार्ड खेलने की तैयारी में यूपीए

भाजपा द्वारा दलित नेता रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने के बाद विपक्षी खेमे में सियासी हलचल तेज़ हो गई है।

राष्ट्रपति चुनाव:
भाजपा द्वारा दलित नेता रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाए जाने के बाद विपक्षी खेमे में सियासी हलचल तेज़ हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस मास्टरस्ट्रोक का जवाब देने के लिए विपक्ष के नेता 22 जून की शाम को मिलने वाले हैं लेकिन उससे पहले ही यह कयास लगाये जा रहे हैं कि मीरा कुमार विपक्ष की साझा उम्मीदवार हो सकती हैं।
मीरा कुमार भी दलित हैं और पूर्व उपप्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम की बेटी और राजनीतिक वारिस हैं। वो लोकसभा अध्यक्ष भी रह चुकी हैं और कार्यकाल के दौरान बेहद शांत तरीके से लोकसभा को चलाने के लिए उनकी तारीफ़ भी होती रही है।
मीरा कुमार भारतीय विदेश सेवा की अधिकारी रही हैं और लम्बे अरसे तक कांग्रेस की सांसद रही हैं। इस लिहाज़ से उनका प्रशासनिक अनुभव और संविधान की जानकारी उन्हें एक योग्य उम्मीदवार बनाती हैं।
अगर मीरा कुमार के नाम पर सहमति बन जाती है तो राष्ट्रपति चुनाव बेहद दिलचस्प हो जाएगा। कोविंद भी पढ़े-लिखे और योग्य उम्मीदवार हैं लेकिन मीरा कुमार से अगर उनका सामना होता है तो उनका चुनाव आसान नहीं होगा। विपक्ष के नेता यह कहने लगे हैं कि कोविंद के नाम की सीधे घोषणा कर दी गई और इसके बारे में विपक्ष की सहमति नहीं ली गई।
इससे पहले अमित शाह ने कहा कि इस फैसले से पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी को अवगत करा दिया है। उन्होंने कहा कि एनडीए के सभी दलों को भी इसकी जानकारी दे दी गई है।
Next Story
Top