Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विपक्ष में बैठना मंजूर लेकिन भाजपा से नहीं होगा बसपा का गठबंधन: मायावती

मायावती ने कहा यूपी में पांच साल में विकास के नाम पर सिर्फ अपराध व दंगा हुआ है।

विपक्ष में बैठना मंजूर लेकिन भाजपा से नहीं होगा बसपा का गठबंधन: मायावती
कानपुर. बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने यूपी चुनाव में बीजेपी से गठबंधन की अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया है। मायावती ने कानपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी सोशल मीडिया के जरिए अफवाह फैला रही है कि बीजेपी और बीएसपी राज्‍य में मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं, लेकिन इस बिलकुल नहीं है। हमारी पार्टी विपक्ष में बैठना पसंद करेगी, लेकिन बीजेपी से गठबंधन नहीं करेगी।
मायावती ने आगे कहा कि पहले चरण में बीएसपी को एकतरफा झमाझम वोट मिले हैं। बीएसपी नंबर एक पर रहेगी। बीजेपी व अन्‍य पार्टियों को बहुत कम सीटें मिलेंगी। मैं हवाहवाई बातें नहीं करती हूं। अमित शाह के चेहरे की हवाइयां उड़ गईं हैं। बीजेपी सीएम का चेहरा तक न दे पाई। वहीं माया ने सपा के चुनावी नारे ‘काम बोलता है’ पर चुटकी लेते हुए कहा कि सपा का काम नहीं, दंगे बोलते हैं। सपा सरकार में असुरक्षा व आतंक का माहौल रहा है। सपा सरकार में 500 से ज्‍यादा दंगे हुए हैं।
दलितों का उठाया मुद्दा
मायावती ने दलित उत्‍पीड़न का मुद्दा उठाते हुए कहा कि दलितों के दर्द से मुझे दर्द होता है। मैं रोहित वेमूला कांड नहीं भुला सकती। मायावती यूपी में चुनाव प्रचार के दौरान लगातार सपा और भाजपा पर निशाना साधती रही हैं। उन्‍होंने गाजियाबाद रैली में कहा था कि अगर यूपी में भाजपा की सरकार बनी तो आरएसएस के इशारे पर आरक्षण खत्म कर दिया जाएगा। सपा पर वार करते हुए उन्‍होंने कहा थ कि यूपी में पांच साल में विकास के नाम पर सिर्फ अपराध व दंगा हुआ है। दादरी में हत्या, बुलंदशहर में दुष्कर्म और मुजफ्फरनगर में दंगा सपा की साजिश थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top