Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मूर्तिकांडः मायावती का PM मोदी पर हमला, कहा नहीं चलेगी बयानबाजी दोषियों पर जल्द हो कार्रवाई

मायावती ने कहा इन सब घटनाओं की हमारी पार्टी निंदा करती है। हमारी पार्टी उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में, खासकर दलितों में जन्में हमारे महापुरूषों की मूर्तियों को सुरक्षित रखने के लिए उचित व्यवस्था करने की केंद्र सरकार और राज्य सरकरों से मांग करती है।

मूर्तिकांडः  मायावती का PM मोदी पर हमला, कहा नहीं चलेगी बयानबाजी दोषियों पर जल्द हो कार्रवाई

मूर्तिकांड में बीएसपी प्रमुख मायावती ने बयान जारी किया है जिसमें मायावती ने कहा इन सब घटनाओं की हमारी पार्टी निंदा करती है। हमारी पार्टी उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में, खासकर दलितों में जन्में हमारे महापुरूषों की मूर्तियों को सुरक्षित रखने के लिए उचित व्यवस्था करने की केंद्र सरकार और राज्य सरकरों से मांग करती है।

मायावती ने अपने बयान में आगे कहा कि इस मामले में प्रधानमंत्री की बयानबाजी नहीं चलेगी, ब्लकि ऐसे तत्वों के खिलाफ इनको सख्त कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए। ऐसे लोगों के खिलाफ देशद्रोह के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। अगर अब सरकार सख्ती दिखाती है तो आगे जाके किसी की हिम्मत नहीं होगी।
आपको बता दे कि मायावती का यह बयान उस समय आया है जब देश में कुछ अराजक तत्व देश के विभिन्न हिस्सों में लगी महानपुरुषों की मूर्तियां तोड़ने में लगे हुए है। इस मूर्तिकांड को अंजाम देने वाले लोगो ने लेनिन,बाबासाहेब भीमराव अमबेडकर,पेरियार या श्यामा प्रसाद मुखर्जी ओर यहां तक महात्मा गांधी की मूर्ति को भी नहीं छोड़ा।
गौरतलब है कि इस मूर्तिकांड की शुरुआत त्रिपुरा चुनाव के नतीजे के बाद हुई थी। जहां वामदलों ने त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ति गिराए जाने के लिए बीजेपी समर्थको इसके लिए दोषी ठहराया था। उसके बाद मूर्तिकांड का यह सिलसिला पहले कलकत्ता, मेरठ और देश के अलग-अलग हिस्सों तक पहुंच गया।
मामला ओर भी गंभीर तब हो गया जब कुछ अज्ञात लोगों ने कलकत्ता में श्यामा प्रसाद की मूर्ती को नुकसान पहुंचाया। बीजेपी ने अपने कार्यकर्ताओं से सयम बनाऐ रखने की अपील की ओर ऐसी किसी भी मामलें में शामिल ना होने की सलाह दी।
हालांकि बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं सुब्रह्मणयम स्वामी समेत कई बीजेपी नेताओं ने त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ती को गिराए जाने की पैरवी कर दी जिसके बाद इन बीजेपी नेताओं को चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ा।
हालांकि मूर्तिकांड से आहत प्रधानमंत्री ने लोगो को ऐसा नहीं करने की गुजारिश की थी। पर लोगो पर प्रधानमंत्री की अपील का खास असर नहीं दिखा ओर कुछ अज्ञात लोगों ने मेरठ में बाबाराव की मूर्ति को ध्वस्त कर दिया।
Next Story
Top