logo
Breaking

मायावती के साथ उनकी ''बहू डिंपल'' का भी है आज जन्मदिन, जानें डिंपल भाभी की कुछ खास बातें

लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा ने गठबंधन किया है। जिसके बाद प्रदेश की राजनीति गरमा गई है। आज बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन है। वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव (Dimple Yadav) का भी आज जन्मदिन है। अखिलेश यादव ने ट्वीट करके डिंपल यादव को जन्मदिन की बधाई दी। अखिलेश याद ने लिखा हैप्पी बर्थडे डिंपल (Happy Birthday Dimple) । डिंपल यादव के जन्मदिन को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पूरे उत्साह के साथ मना रहे हैं। आज हम आपको बता रहे हैं डिंपल यादव से जुड़ी कुछ खास बातें जो आपको पता नहीं होंगी।

मायावती के साथ उनकी
लोकसभा चुनाव 2019 (Loksabha Elections 2019) को लेकर उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा ने गठबंधन किया है। जिसके बाद प्रदेश की राजनीति गरमा गई है। आज बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) का जन्मदिन है। मायावती के साथ उनकी बहू और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव (Dimple Yadav) का भी आज जन्मदिन है। दरअसल अखिलेश यादव मायावती को कई बार बुआ कह कर संबोधित कर चुके हैं। इस रिश्ते से देखा जाए तो मायावती डिंपल की 'बुआ सास' हुईं। अखिलेश यादव ने ट्वीट करके डिंपल यादव को जन्मदिन की बधाई दी। अखिलेश याद ने लिखा हैप्पी बर्थडे डिंपल (Happy Birthday Dimple) । डिंपल यादव के जन्मदिन को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पूरे उत्साह के साथ मना रहे हैं। आज हम आपको बता रहे हैं डिंपल यादव से जुड़ी कुछ खास बातें जो आपको पता नहीं होंगी।

डिंपल यादव (Dimple Yadav) कन्नौज लोकसभा सीट से सांसद हैं। 2014 में वह भाजपा के प्रत्याशी को हराकर सांसद बनी थीं। डिंपल यादव को उनके सादगी भरे स्वभाव के लिए जाना जाता है। वो अधिकतम महिलाओं के मुद्दे पर काम करती हैं। महिलाओं के खिलाफ होने वाले क्राइम को लेकर वह खासी चिंतित रहती हैं।
जब अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने इस बारे में कई बार कहा, जिसके बाद 1090 हेल्पलाइन का गठन किया गया। 15 जनवरी को 1978 में डिंपल यादव का जन्म हुआ था। आज उनका 41वां जन्मदिन है। लखनऊ में पढ़ाई के दौरान डिंपल की मुलाकात अखिलेश से हुई थी। डिंपल के पिता भारतीय सेना (Indian Army) में थे। जो अब परिवार के साथ उत्तराखंड में रह रहे हैं।
1999 में अखिलेश यादव और डिंपल की शादी हुई थी। अखिलेश और डिंपल के तीन बच्चे हैं। लेकिन डिंपल और अखिलेश घरवालों को शादी के लिए चार साल तक मनाते रहे। तब जाकर कहीं दोनों की शादी हो पाई। शादी के वक्त अखिलेश 25 साल के थे। कहा जाता है कि मुलायम अखिलेश और डिंपल की शादी के लिए राजी नहीं थे।
लेकिन बाद में अमर सिंह के मनाने के बाद मुलायम सिंह यादव मान गए। एक राजनीति से जुड़े परिवार में आने के बाद डिंपल भी राजनीति में आईं लेकिन 10 साल बाद। साल 2009 में डिंपल यादव ने फिरोजाबाद से चुनाव लड़ा। लेकिन राज बब्बर से उन्हें हार मिली। 2014 में वह अखिलेश यादव की संसदीय सीट रही कन्नौज से चुनाव मैदान में उतरीं।
यहां उन्होंने 20 हजार वोटों से जीत हासिल की और पहली बार लोकसभा पहुंचीं। कन्नौज में बसपा कांग्रेस ने उनके खिलाफ अपने प्रत्याशी नहीं उतारे थे। डिंपल यादव एक घरेलू महिला के रूप में भी देखी जाती हैं। जब अखिलेश परेशान होते हैं तो वो लगातार उन्हें सलाह देती रहती हैं। व्यस्त होने के बावजूद भी डिंपल बच्चों को पढ़ाती हैं। डिंपल 2019 में कहां से चुनाव लड़ेंगी ये साफ नहीं हो सका है। लेकिन हो सकता है कि वो दोबार कन्नौज से ही चुनाव लड़ें।
Loading...
Share it
Top