Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नरोदा पटिया: हाईकोर्ट के फैसले पर बोलीं कोडनानी- भगवान के घर में देर है, अंधेर नहीं

साल 2002 के नरोदा पाटिया दंगा केस में गुजरात हाईकोर्ट ने राज्य की पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता माया कोडनानी को शुक्रवार (20 अप्रैल) को बड़ी राहत दी।

नरोदा पटिया: हाईकोर्ट के फैसले पर बोलीं कोडनानी- भगवान के घर में देर है, अंधेर नहीं

साल 2002 के नरोदा पाटिया दंगा केस में गुजरात हाईकोर्ट ने राज्य की पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता माया कोडनानी को शुक्रवार (20 अप्रैल) को बड़ी राहत दी। हाईकोर्ट ने 16 साल बाद उन्हें मामले से बरी कर दिया। इस फैसले के बाद माया कोडनानी रो पड़ीं थीं। अब माया कोडनानी ने कहा कि मुझे खुशी है कि न्याय मिला है। भगवान के घर में देर है, अंधेर नहीं। मैं जानती हूं कि मैं निर्दोष हूं और मैं इससे बाहर आउंगी।'

ये भी पढ़ें- बीजेपी सांसद ने यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा पर साधा निशाना, कहा- घमंडी हो गए

कोडनानी के छोटे भाई नारायण मेघानी ने कहा, “पिछले दस सालों से हम ट्रॉमेटिक कंडीशन में जी रहे हैं। परमेश्वर पे सब से ज्यादा भरोसा था और भारत की न्यायपालिका में विश्वास रखे हुए थे… हमको पता था कि एक न एक दिन सत्य की विजय होगी।”

ये भी पढ़ें- मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के दोबारा महासचिव चुने गए सीताराम येचुरी

मेघनानी ने अहमदाबाद की एसआईटी कोर्ट के बारे में कहा, “सेशन कोर्ट ने सत्य का खारिज कर दिया था और पता नहीं क्यों उस पर भरोसा नहीं किया था? हो सकता है कि सेशंस जज की कोई व्यक्तिगत समस्या रही हो लेकिन अब मैं उस मामले में नहीं जाना चाहता। 16 साल पहले हुई उस घटना की सच्चाई हमलोग जानते हैं। घटना में मारे गए 97 लोगों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना है लेकिन हम इतना ही कहेंगे कि वहां माया कोडनानी नहीं थी।”

Next Story
Top