Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मारीशस की नजर भारतीय निवेशकों पर, फिल्म उद्योग को कर रहा है आकर्षित

मारीशस में भारतीय मूल के लोगों की आबादी बहुत अधिक है

मारीशस की नजर भारतीय निवेशकों पर, फिल्म उद्योग को कर रहा है आकर्षित
पोर्ट लुई. अपने-आपको अफ्रीका के मुख्यद्वार के तौर पेश करते हुए खूबसूरत देश मारीशस शिक्षा और गहरे समुद्र खनन खंड समेत विविध क्षेत्रों में भारतीय निवेश आकर्षित करने पर विचार कर रहा है। मारीशस सरकार के शीर्ष अधिकारियों के मुताबिक देश उदार निवेश प्रक्रिया और आसानी से कारोबार करने का अवसर प्रदान करता है और फिल्म शूटिंग एक अन्य क्षेत्र जो भारतीय कंपनियों के लिए फायदेमंद पेशकश है।
मारीशस में भारतीय मूल के लोगों की आबादी बहुत अधिक है और उसका भारत के साथ सरकार एवं कारोबार दोनों स्तर पर द्विपक्षीय संबंध है। मारीशस के विदेश मंत्रालय :मारीशस: के काउंसलर विश मुंगर ने कहा, हम चाहते हैं कि भारत की कंपनियां बड़ी संख्या में यहां अपना परिचालन स्थापित करें, हम चाहते हैं कि भारतीय कंपनियां मारीशस की अर्थव्यवस्था के विकास में बड़ी भूमिका प्रदान करें। मारीशस को भारतीय कंपनियों के लिए अवसरों का भूमि करार देते हुए मुंगर ने कहा कि यह अन्य अफ्रीकी देशों में अपना कारोबार के विकास का भी मौका प्रदान करता है।
मुंगर ने अपने आपको अफ्रीका के लिए कर मुक्त मुख्य द्वारा करार देते हुए कहा कि मारीशस कर प्रोत्साहन भी प्रदान करता है। मुंगर ने कहा कि भारतीय कंपनियां विनिर्माण, अंतरिक्ष, शिक्षा, फार्मा, साफ्टवेयर, रीयल एस्टेट, गहरे समुद्र में खनन और महासागर अर्थव्यवस्था समेत विभिन्न क्षेत्रों में निवेश कर सकती हैं।
नीचे की स्लाइड में पढ़िए, फिल्म उद्योग के लिए क्यो खास है मारीशस -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Share it
Top