Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गुजरात में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों का मास्टरमाइंड दिल्ली से गिरफ्तार

गुजरात में वर्ष 2008 में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के मुख्य साजिशकर्ता को मुठभेड़ के बाद दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया।

गुजरात में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों का मास्टरमाइंड दिल्ली से गिरफ्तार

गुजरात में वर्ष 2008 में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के मुख्य साजिशकर्ता को मुठभेड़ के बाद दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया। दिल्ली पुलिस ने आज यह जानकारी दी। अब्दुल सुभान कुरैशी इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) का संस्थापक है। उसके तार स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) से भी जुड़े हैं। उसे शनिवार शाम पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर से गिरफ्तार किया गया। कुरैशी की तलाश कई राज्यों की पुलिस के साथ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को भी थी, जिससे वह भारत के ओसामा बिन लादेन के नाम से कुख्यात हो गया था।

पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) पीएस कुशवाह ने बताया कि विशेष प्रकोष्ठ को सूचना मिली थी कि गाजीपुर में वह अपने एक पुराने साथी से मिलने आएगा। उन्होंने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि विशेष प्रकोष्ठ और अन्य खुफिया एजेंसियों के दलों ने 46 वर्षीय कुरैशी का पीछा किया। कुशवाह ने बताया कि वह फर्जी आईडी के बल पर नेपाल में रह रहा था और 2015-2017 के बीच सऊदी अरब में गया था। वह सिमी की पत्रिका का संपादक भी था।
वर्ष 2001-2002 में सिमी में शामिल होने से पहले वह एक शीर्ष आईटी कंपनी में काम करता था। पुलिस ने बताया कि वह एक प्रौद्योगिकी दक्ष व्यक्ति है और अगर वह सिमी में शामिल नहीं होता तो एक कंपनी में उच्चाधिकारी होता। कुशवाह ने बताया कि पुलिस और कुरैशी के बीच कम से कम 13-14 राउंड गोलीबारी हुई।
उसके पास एक पिस्तौल, कारतूस और एक सैंट्रो कार बरामद हुई जो नवम्बर 2014 में चोरी हुई थी।
हालांकि गणतंत्र दिवस से पहले उसकी गिरफ्तारी हुई है लेकिन पुलिस का कहना है कि वह दिल्ली में हमले की योजना नहीं बना रहा था। बाद में महानगर की एक अदालत ने उससे पूछताछ के लिए दो हफ्ते तक पुलिस हिरासत में भेज दिया।
डीसीपी ने बताया कि वह उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात और मध्यप्रदेश में संगठन के बिखरे नेटवर्क को बहाल करने की योजना बना रहा था जहां संगठन पहले मजबूत था। अधिकारी ने बताया कि मुंबई और बेंगलुरु में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों की जांच में भी उसका नाम सामने आया था। गुजरात के अहमदाबाद में 26 जुलाई 2008 को हुए 20 धमाकों में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। उन धमाकों की जिम्मेदारी इंडियन मुजाहिदीन ने ली थी।
Share it
Top