Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मराठा आरक्षण: हिंसा के बाद बीच में ही खत्म ''मुंबई बंद'', तीन पुलिसकर्मी घायल

मराठा क्रांति मोर्चा की ओर से मुंबई में आयोजित एक दिन का बंद आज बीच में ही वापस ले लिया गया।

मराठा आरक्षण: हिंसा के बाद बीच में ही खत्म

मराठा क्रांति मोर्चा की ओर से मुंबई में आयोजित एक दिन का बंद आज बीच में ही वापस ले लिया गया। बंद के दौरान बसों पर हमला किया, आगजनी की और लोकल ट्रेनों पर पत्थर फेंके, हिंसा भड़क जाने के बाद बंद वापस लिया गया।

प्रदर्शनकारियों ने मराठा संगठनों की ओर से आयोजित बंद के दौरान मुंबई और इससे सटे ठाणे जिले सहित महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बसों पर हमला किया, आगजनी की और लोकल ट्रेनों पर पत्थर फेंके।

पथराव में एक पुलिस अधीक्षक सहित तीन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। पुलिस ने कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शनकारियों को तितर- बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे और लाठीचार्ज किया।

महाराष्ट्र में विभिन्न स्थानों पर सोमवार से ही हो रहा प्रदर्शन आज मुंबई पहुंच गया और शहर को पूरी तरह बंद कराने की कोशिश की गई। बहरहाल, आज सुबह शुरू हुआ बंद कुछ जगहों पर हिंसा होने के कारण वापस ले लिया गया।

मराठा क्रांति मोर्चा के नेता वीरेंद्र पवार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हम सिर्फ यह साबित करना चाहते थे कि हम एकजुट हैं और हमने इसे साबित भी किया।

यह भी पढ़ें- युगांडा की संसद में बोले पीएम मोदी, भारत को अफ्रीका का सहयोगी होने पर गर्व है

उन्होंने आगे कहा कि हम नहीं चाहते थे कि प्रदर्शन हिंसक हो जाए। इसलिए हम आज मुंबई में अपना बंद खत्म कर रहे हैं। पवार ने आगे कहा कि हमें संदेह है कि कुछ लोगों ने राजनीतिक मंशा से हिंसक गतिविधियां की है वरना, इसे पहले ही तरह ही शांतिपूर्ण होना था।

आपको बता दें कि मराठा संगठनों ने नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण की अपनी मांग को लेकर बंद आयोजित किया था।

Next Story
Top