Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंदिर के गेट पर लिखा ''ISIS कमिंग सून''

इस्लामिक संगठन आइएसआइएस की बढ़ती गतिविधियों के मद्देनजर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है

मंदिर के गेट पर लिखा
शिमला. हिमाचल प्रदेश के धर्मपुर के मनसा मामा मंदिर पर मंगलवार देर रात किसी ने दो जगह आतंकवादी संगठन 'आइएसआइएस' का नाम लिख दिया। एक जगह गेट पर 'आइएसआइएस कमिंग सून' भी लिखा। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। हिमाचल प्रदेश में इस्लामिक संगठन आइएसआइएस की बढ़ती गतिविधियों के मद्देनजर प्रदेश भर में कड़ी सुरक्षा कर दी है।
पिछले महीने ही कुल्लू में पुलिस द्वारा पकड़े गए आइएसआइएस के एजेंट आबिद सईद के बाद अब जिला सोलन के धर्मपुर में मनसा माता मंदिर के प्रवेश द्वार पर देर रात किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा आतंकवादी संगठन आइएसआइएस की मुहर लगाई गई, जिससे कारण धर्मपुर क्षेत्र में सनसनी फैल गई।
इस बात की जानकारी जब स्थानीय लोगों ने धर्मपुर पंचायत के प्रधान ओम प्रकाश पंवर को दी गई तो उन्होंने तुरंत इसकी सूचना पुलिस थाना धर्मपुर को दी। इसके बाद पुलिस प्रभारी अनिल ठाकुर की अगुवाई में पुलिस की टीम ने मौके का निरीक्षण किया।
कालका-शिमला नेशनल हाईवे पर स्थित धर्मपुर में माता मनसा देवी मंदिर स्थित है। यह मंदिर लोगों की आस्था का केंद्र है। लोग दूर-दूर से यहां शीश नवाने आते हैं, लेकिन इस मंदिर के प्रवेश द्वार पर एक आतंकवादी संगठन के कुछ निशान मिले हैं, जिससे स्थानीय लोग परेशान हो गए हैं। जैसे-जैसे लोगों को इस बात का पता लग रहा है, वैसे-वैसे लोगों में सनसनी फैलती जा रही है। थाना प्रभारी अनिल ठाकुर ने बताया कि जैसे ही इस बारे पुलिस को सूचना मिली तो पुलिस तुरंत मौके पर पहुंच गई। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा इसकी छानबीन की जा रही है।
आइएसआइएस की मुहर में कुछ लाइनें अरबी भाषा में लिखी गई है। इसके अनुवाद के लिए पुलिस द्वारा धर्मपुर के स्थानीय मुस्लिम व्यक्ति को बुलाकर मुहर में लिखी गई अरबी भाषा का अनुवाद करवाया गया। धर्मपुर में एक-दो व्यक्ति ही उर्दू भाषा के बारे में जानते हैं जिससे लिखे गए अक्षर पढ़ने के लिए व्यक्ति ढूंढने में थोड़ा समय लगा। जब उर्दू की जानकारी रखने वाले व्यक्ति को बुला कर ये उर्दू में लिखे शब्द पढ़ाए गए तो उसने बताया कि उर्दू में ला अल्ला इल्ल इल्ल लह लिखा हुआ है। साथ ही अंग्रेजी भाषा में 'आइएसआइएस कमिंग सून' लिखा हुआ है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top