Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सीलिंग विवाद / SC ने मनोज तिवारी के खिलाफ एक्शन लेने से किया इनकार

दिल्ली में एक मकान की सीलिंग तोड़ने के मामले में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल गई है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में तिवारी पर गंभीर टिप्पणी करते हुए कहा है कि मनोज तिवारी का सीलिंग तोड़ना दुखद है, उन्हें कानून को अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए था।

सीलिंग विवाद / SC ने मनोज तिवारी के खिलाफ एक्शन लेने से किया इनकार
दिल्ली में एक मकान की सीलिंग तोड़ने के मामले में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल गई है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में तिवारी पर गंभीर टिप्पणी करते हुए कहा है कि मनोज तिवारी का सीलिंग तोड़ना दुखद है, उन्हें कानून को अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए था।
इस टिप्पणी के बाद सुप्रीम कोर्ट ने किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं की है। ऐसे में कहा जा रहा है कि तिवारी को इस मामले में राहत मिल गई है। बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के गोकुलपुर गांव में एक डेयरी पर लगी सील 16 सितंबर को मनोज तिवारी ने तोड़ दी थी।
इसके बाद सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त मॉनिटरिंग कमेटी की शिकायत पर मनोज तिवारी को सुप्रीम कोर्ट ने अदालत की अवमानना का नोटिस दिया था। पिछली सुनवाई के दौरान भी सुप्रीम कोर्ट मनोज तिवारी से बेहद नाराज था।
कोर्ट का कहना था कि मनोज तिवारी एक सांसद हैं तो फिर उन्होंने कानून को अपने हाथ में क्यों लिया? मनोज तिवारी ने जब सुप्रीम कोर्ट से कहा कि दिल्ली में सीलिंग के पिक एंड चूस हो रहा है और मॉनिटरिंग कमेटी अपनी मनमानी कर रही है इस पर सुप्रीम कोर्ट ने मनोज तिवारी से पूछा था कि क्यों न आपको ही सीलिंग ऑफिसर बना दें?
Next Story
Share it
Top