Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''मन की बात'': पीएम ने स्‍वच्‍छ भारत अभियान पर जताई खुशी, किया कालाधन वापस लाने का वादा

पीएम मोदी ने 3 अक्टूबर को रेडियो से अपनी ‘मन की बात’ की शुरूआत की।

नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दूसरी बार रेडियो के माध्यम से देशवासियों से अपनी 'मन की बात' की। प्रधानमंत्री की 'मन की बात' का प्रसारण आकाशवाणी और अन्य रेडियों चैनलों पर किया गया। इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें यह उम्‍मीद नहीं थी की भारत स्‍वच्‍छ अभियान एक जनआंदोलन का रूप ले लेगा। खुशी जाहिर करते हुए उन्‍होंने कहा कि हमें इस अभियान को और व्‍यापक स्‍तर पर चलाना है। उन्‍होंने कहा कि आज बच्चे स्कूल जाते हुए रास्ते में कूड़ा-कचरा उठाते हैं। स्कूल, मोहल्ले, खेल के मैदान में सफाई का ध्यान रखते हैं।

उन्‍होने कहा कि उत्सव का त्योहार का माहौल अलग होता है। पिछली बार जब मैंने आपसे बात की तो मेरे लिए बहुत ही अलग अनुभूति थी। उन्‍होंने कहा, 'कभी-कभी लगता है कि अरे! छोड़ो यार कुछ नहीं हो सकता। देश ही बेकार है, लेकिन ऐसा नहीं है। कभी-कभी मुझे लगता है कि देश सरकारों से बहुत आगे है।'

खादी की बढ़ी बिक्री पर उन्‍होने कहा, 'देश का युवा वर्ग खास तौर पर अवसरों के लिए देख रहा है। पिछली बार खादी की बात की थी। मुझे खादी भंडार के लोगों से पता चला कि एक महीने में खादी की बिक्री 125 फीसदी बढ़ी है।' स‍फाई अभियान से खुश एक व्‍यक्ति की चिट्ठी का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि मध्य प्रदेश सतना के भरत गुप्ता ने उन्‍हें लिखा कि पहले की तुलना में रेलवे में सफाई का स्तर बहुत बढ़ा है। लोगों ने ट्रेन में एक जगह पर सारी गंदगी, कचरा जमा किया।

पिछले बार 'मन की बा' पर मोदी ने कहा,' पिछली बार मैंने आपसे स्पेशली एबल्ड चाइल्ड के बारे में बाती की थी। ऐसे बच्चों के लिए HRD मिनिस्ट्री के अफसरों ने मुझे विशेष सुझाव दिया।'

नीचे की स्लाइड में पढ़िए, जानिए, कालाधन पर क्‍या बोले पीएम मोदी-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Top