logo
Breaking

मणिशंकर अय्यर के सस्पेंड होने के बाद सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना

पक्ष और विपक्ष के कई नेताओं ने अय्यर के बयान की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना की है।

मणिशंकर अय्यर के सस्पेंड होने के बाद सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान देने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर को पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया है। जिसके बाद बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है।

वहीं दूसरी ओर केंद्र की सत्ता पक्ष और विपक्ष के तमाम नेताओं ने अपने अपने तरीके से सोशल मीडिया पर अय्यर के सस्पेंड किए जाने को लेकर आलोचना की है।

अरुण जेटली ने अय्यर पर साधा निशाना

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि यह ऐसी मानसिकता का परिचायक है कि इस देश में ‘केवल एक कुलीन परिवार' ही शासन कर सकता है। जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री को ‘नीच' कह कर कांग्रेस पार्टी ने भारत के कमजोर एवं पिछड़े वर्ग के लोगों को चुनौती देने का काम किया है।

इसे भी पढ़ें- अय्यर के सस्पेंड होने से कांग्रेस में राहुल युग शुरू, इस बयान ने बनाया नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री

अय्यन ने गुजराज चुनाव के दौरान मोदी को ‘नीच आदमी' संबोधित किया था। वित्त मंत्री ने अपने ट्वीट में कहा कि लोकतंत्र की ताकत तब प्रदर्शित होगी जब एक कमजोर पृष्ठभूमि से आने वाला व्यक्ति राजनीति तौर पर वंशवाद और उसके प्रतिनिधियों को पराजित करेगा।

अमित शाह वार

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ट्विटर पर लिखा है कि 'देश के दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित और गरीब वर्ग के प्रति कांग्रेस में शुरू से ही घृणा रही है। उन्होंने आगे लिखा कि कांग्रेस इस तरह की भाषा का इस्तेमाल मोदी के लिए करती रही है।

स्मृति ईरानी ने भी किया ट्वीट

दूसरी तरफ सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर लिखा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संचार रणनीतिकार श्री मणिशंकर अय्यर की टिप्पणी दिखाती है कि कांग्रेस माननीय प्रधानमंत्री के बारे में क्या सोचती है। यह शर्मनाक है।

लालू यादव का मणि शंकर अय्यर का निशाना

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद याद ने कहा कि मणिशंकर मानसिक रूप से फिट नहीं हैं। इस बीच उन्होंने एक ट्वीट भी किया, जिसमें नाम लिए बिना 'एक व्यक्ति' को राजनीति में मर्यादा और भाषा को तार-तार करने का आरोप लगाया है।

इसे भी पढ़ें- दिल्ली: सड़क पर DCW की महिला कार्यकर्ता को घुमाय नंगा, देखें वीडियो

अशोक गहलोत ने भी किया ट्वीट

कांग्रेस के गुजरात राज्य के प्रभारी और राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीटर पर लिखा राहुल गांधी जी ने पहले ही कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं को पीएम के पद की गरिमा के खिलाफ कुछ भी गलत ना बोलने की नसीहत दी थी, उसके बावजूद भी मणिशंकर अय्यर का यह बयान आना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

इससे पहले प्रधानमंत्री ने कहा था कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के जाने के बरसों बाद तक राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मिटाने के प्रयास किए जाते रहे लेकिन जिस ‘परिवार' के लिए ये सब किया गया, उस परिवार से कहीं ज्यादा लोग आज बाबा साहेब से प्रभावित हैं।

Loading...
Share it
Top