Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ममता बनर्जी ने इशारों में नीतीश कुमार को कहा ''गद्दार''

ममता ने कहा कि मौजूदा हालात आपातकाल से भी बदतर हैं।

ममता बनर्जी ने इशारों में नीतीश कुमार को कहा
नई दिल्ली. नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाली पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को नोटबंदी का समर्थन करने वाले बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर इशारों में बड़ा हमला बोला। पटना में नोटबंदी के खिलाफ धरना-प्रदर्शन करने पहुंचीं ममता ने कहा कि नोटबंदी पर जो लोग उनका समर्थन नहीं कर रहे हैं, वे गद्दार हैं। हालांकि ममता ने नीतीश का नाम नहीं लिया, पर बिहार की राजधानी में आकर ऐसा बयान दिए जाने को स्वाभाविक तौर पर नीतीश से ही जोड़ कर देखा जा रहा है।
पटना के गर्दनीबाग में नोटबंदी के खिलाफ धरना देने पहुंचीं ममता के साथ मंच पर आरजेडी के नेता भी मौजूद थे। आरजेडी की ओर से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे और वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह धरने में शामिल हुए। ममता ने यहां नरेंद्र मोदी के साथ-साथ नीतीश कुमार पर भी जमकर हमला किया। उन्होंने कहा, 'जो पार्टियां नोटबंदी के मुद्दे हमारा समर्थन कर रही हैं, मैं उन्हें शुक्रिया अदा करती हूं और जो समर्थन नहीं कर रहे हैं वे गद्दार हैं।'
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, ममता ने कहा कि मौजूदा हालात आपातकाल से भी बदतर हैं, यह आर्थिक आपातकाल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उनके हमले यहां भी जारी रहे। उन्होंने कहा, 'भीख मांग कर खाएंगे, सड़क पर रहेंगे पर आपका पैसा नहीं चाहिए।' तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने कहा, 'दिक्कत के समय घर की महिला बचत करती है, मोदी ने सब ले लिया। यह स्त्रीधन और स्त्री शक्ति का अपमान है।' ममता ने कटाक्ष करते हुए कहा कि बच्चे आजकल कहते हैं कि पेटीएम के लिए दूसरा शब्द 'पे पीएम' है।
बता दें कि पटना में नोटबंदी के खिलाफ धरना-प्रदर्शन करने के लिए ममता मंगलवार रात ही पटना पहुंच गई थीं। बताया जा रहा है कि नोटबंदी पर नीतीश के रुख के अलावा, ममता इस बात से भी नाराज हैं कि नीतीश कुमार ने एयरपोर्ट पर उन्हें रिसीव करने के लिए किसी सीनियर मंत्री को नहीं भेजा। हालांकि आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव और उनकी पत्नी राबड़ी देवी ने ममता का अपने घर पर आत्मीयता से स्वागत किया।
इसके पहले ममता जब नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन के लिए लखनऊ पहुंची थीं, तो खुद सीएम अखिलेश यादव उन्हें रिसीव करने आए थे। अखिलेश ने अपने कुछ मंत्रियों को प्रदर्शन में शामिल होने के लिए भी भेजा था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top