Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CBI Vs Mamata : ममता बनर्जी बोलीं- हेलीकॉप्टर कंपनियां हमारी बुकिंग करने से डर रहीं

धरना स्थल से सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि मैं कोई नाम नहीं लूंगी, लेकिन हमारा एक हेलीकॉप्टर कंपनी से समझौता हुआ था। हमने एडवांस बुकिंग की लेकिन दोनों के बीच डील भी हुई।

CBI Vs Mamata : ममता बनर्जी बोलीं- हेलीकॉप्टर कंपनियां हमारी बुकिंग करने से डर रहीं
पश्चिम बंगाल (West Bengal) में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का संविधान बचाओं धरना (Dharna) तीसरे दिन भी जारी है। पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के आवास पर सीबीआई (CBI) की छापेमारी के खिलाफ ममता बनर्जी धरने पर बैठी हैं।
धरना स्थल से सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि मैं कोई नाम नहीं लूंगी, लेकिन हमारा एक हेलीकॉप्टर कंपनी से समझौता हुआ था। हमने एडवांस बुकिंग की लेकिन दोनों के बीच डील भी हुई।
आगे कहा कि दुःखद है कि एक फरवरी को उन्होंने हमें सूचना दी कि वे हमें हेलीकॉप्टर उपलब्ध नहीं करवाएंगे, वे पीछे हट गए, दिल्ली में हमारे बैन बनाने से लोग डर रहे हैं।
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद धरने पर बैठीं बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि ये हमारी नैतिक जीत है। वहीं उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार संविधान का उल्लंघन कर रही है। हम कोर्ट की इज्जत करते हैं और उसके आदेश का पालन करेंगे।
बता दें कि अब सीबीआई की अर्जी पर 20 फरवरी को सुनवाई होगी। राजीव कुमार के खिलाफ कोट् ने अवमानना का नोटिस जारी कर दिया है। जिसका जवाब 18 फरवरी तक जमा करना होगा। वहीं डीजीपी पुलिस कमिश्नर और चीफ सेक्रेटरी को सुनवाई को दौरान पेश होना होगा।
एएनआई के मुताबिक, एक्ट्रेस और टीएमसी नेता इंद्राणी हलधर ने ममता बनर्जी से की मुलाकात, 'संविधान बचाओ' अभियान के दौरान मंच पर पहुंची हैं।
ममता कोलकाता के मेट्रो चैनल के पास अस्थाई मंच लगाकर धरना दे रही हैं। बीते 36 घंटों से वो केंद्र और सीबीआई के खिलाफ धरने पर हैं। धरना स्थल से ही ममता राज्य में सरकार चला रही हैं।
जानकारी के लिए बता दें कि ममता के इस फैसले का कई विपक्षी पार्टियों ने खुलकर समर्थन किया है। कांग्रेस, सपा, बसपा, आरजेडी उनके समर्थन में आ गई हैं।
रविवार शाम करीब 6 बजे से कोलकाता में ममता धरने पर बैठ गई थी। सोमवार सुबह तक ममता का धरना जारी रहा और इस दौरान उन्होंने कैबिनेट की बैठक भी वहीं से की। पुलिस अधिकारियों को मंच से ही सम्मानित भी किया गया।
शारदा चिट फंड घोटाला केस की जांच से जुड़े रहे अधिकारी और कोलकाता के मौजूदा पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर रविवार रात सीबीआई की रेड से ममता इतनी नाखुश हो गईं कि राज्य की पुलिस ने सीबीआई के अधिकारियों को हिरासत में ले लिया था। इसके तुरंत बाद ममता बनर्जी मोदी सरकार पर गरजते हुए धरने पर बैठ गईं। उनका धरना शुरू होते ही पूरे देश की सियासत गर्मा गई।
कांग्रेस ने साफ तौर पर कह दिया कि सीबीआई की यह कार्रवाई करा मोदी जी ने विपक्ष को एकजुट होने के लिए बड़ा मौका दिया है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कोलकाता के इस सियासी घटनाक्रम को एक साथ आने का मौका बताया है। उन्होंने कहा है कि हम मोदी जी को धन्यवाद करना चाहते हैं कि उन्होंने पूरे विपक्ष को एक साथ का मौका दिया है।
Next Story
Top