Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मालदीव ने भारत और पीएम मोदी के खिलाफ उगला जहर, राजनीति में आया भूचाल

मालदीव के अखबार के संपादकीय में पीएम नरेंद्र मोदी को मुस्लिम विरोधी और भारत को सबसे बड़ा दुश्भीमन बताया गया है।

मालदीव ने भारत और पीएम मोदी के खिलाफ उगला जहर, राजनीति में आया भूचाल

मालदीव और भारत के रिश्ते दिन-ब-दिन बिगड़ते जा रहे हैं। मालदीव ने भारत के खिलाफ जहर उगलते हुए उसे अपना सबसे बड़ा दुश्मन बताया है। इतना ही नहीं मालदीव के अखबार के संपादकीय में पीएम नरेंद्र मोदी को मुस्लिम विरोधी भी बताया गया है।

साथ ही मालदीव ने चीन को अपना सबसे अच्छा दोस्त बताया है। मालदीव के अखबार में छपी इस खबर से मालदीव की राजनीति में भूचाल आ गया है। इसी के साथ भारत ने भी इसकी कड़ी आलोचना की है।

यह भी पढ़ें- मंत्री ने ऑफिस में देखी पॉर्न फिल्म, सोशल मीडिया पर हुई वायरल- देना पड़ा इस्तीफा

राष्ट्रपति कार्यालय द्वारा मिली मंजूरी

इस लेख के संबंध में मालदीव के विपक्ष का कहना है कि भारत के खिलाफ यह टिप्पणी राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन के मुखपत्र में छपी है। इस लेख के प्रकाशित होने से पहले इसे राष्ट्रपति कार्यालय द्वारा मंजूरी भी दी गई हो गई तभी यह छपा है।

भारत हो जाए सतर्क- विपक्ष

विपक्ष का कहना है कि राष्ट्रपति यामीन के इस तरह के कदम के बाद भारत को सतर्क हो जाना चाहिए। वहीं इस लेख पर एमडीपी नेता और मालदीव के पूर्व विदेश मंत्री अहमद नसीम का कहना है कि इस तरह के संपादकीय चीन को खुश करने के मकसद छापे जा रहे हैं। ये दोनों देशों के हित में नहीं हैं। साथ ही उन्होंने ये भी कहा है कि भारत के साथ अच्छे संबंधों में ही दोनों देशों की भलाई है।

यह भी पढ़ें- नॉर्थ कोरिया: किम जोंग ने 2 अधिकारियों की ली जान, जानिए पांच साल में कितनों को उतारा मौत के घाट

चीन चाहता है मालदीव को पक्ष में करना

बता दें कि चीन मालदीव को अपने पक्ष मे करके हिंद महासागर में स्थित द्वीप समूहों को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल करना चाहता है। मालदीव सरकार का एजेंडा इस तरह की हरकतों से चीन को भारत के खिलाफ तैयार कर रहा है लेकिन मालदीव के विपक्ष के नेता भारत के पक्ष में है।
Next Story
Top