Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

13,860 करोड़ का खुलासा करने वाले शाह ने भगवान को भी दिया धोखा

पहली बार ऐसा हो रहा है जब किसी दान देने वाले ने अब तक भुगतान न किया हो

13,860 करोड़ का खुलासा करने वाले शाह ने भगवान को भी दिया धोखा
अहमदाबाद. गुजरात के व्यापारी महेश शाह 13,860 करोड़ रुपये का खुलासा करके सुर्खियों में आए थे जिसके बाद उनके बारे में कई और खुलासे हुए। लेकिन ये दौर अभी रुका नहीं है। अब नए खुलासे में जो बात सामने आई है, उसने सबको हैरान कर दिया है। अहमदाबाद मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, शाह ने धोखा देने में भगवान को भी नहीं बख्शा। टैक्स डिफॉल्टर महेश ने जैन मंदिर में एक पूजा पाठ के लिए 70,000 रुपये का चेक दान में दिया था। लेकिन जब मंदिर ट्रस्ट ने चेक भजाने की कोशिश की तो खाते में पैसे न होने के चलते चेक बाउंस हो गया।
मंदिर ट्रस्ट ने अपनी सफाई देते हुए बताया कि ये कोई नई बात नहीं है जब कोई भक्त मंदिर में आया हो तो उसने कैश में ही दान दिया हो। कई भक्त कैश न होने पर चेक के रूप में दान देते हैं। ऐसे कई भक्त हैं जिनका चेक बाउंस हुआ है लेकिन वो बाद में आकर कैश दे जाते हैं। लेकिन पहली बार ऐसा हो रहा है जब किसी दान देने वाले ने अब तक भुगतान न किया हो।
डोनर के पेमेंट कर देने के बाद हम बैक से वापस लौटा उसका चेक उसे दे देते हैं लेकिन महेश का चेक अब तक हमारे पास पड़ा है क्योंकि उसने अब तक भुगतान नहीं किया। मंदिर ट्रस्ट का कहना है कि जो लोग भुगतान नहीं करते ट्रस्ट उनसे पैसे निकलवाने के लिए कानून का सहारा नहीं लेती। स्वेच्छा से किए गए भुगतान को ही भंडारे के लिए दी गई रकम में शामिल किया जाता है।
बता दें कि 10 दिन तक चलने होने वाले इस धार्मिक व्रत को साल में दो बार रखा जाता है। यह एक विशेष तरह का व्रत है जिसमें भक्त दिन में एक बार सिर्फ उबला हुआ अनाज खाते हैं जिसमें नमक का इस्तेमाल नहीं होता है। महेश शाह ने यह चेक व्रत के दौरान मंदिर में भक्तों के भोजन के इंतजाम के लिए दिया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top