Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पुणे हिंसा: जगह-जगह प्रदर्शन के चलते धारा 144 लागू, ट्रेन-बस और डब्बावालों की सर्विस बंद

गृहमंत्री राजनाथ सिहं ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से फोन पर बात कर राज्य के हालात की जानकारी ली और सीएम ने स्थिति नियंत्रण में होने का दावा किया है।

पुणे हिंसा: जगह-जगह प्रदर्शन के चलते धारा 144 लागू, ट्रेन-बस और डब्बावालों की सर्विस बंद

पुणे में नए साल पर शुरू हुई हिंसा की लपटें धीरे-धीरे अब महाराष्ट्र के दूसरे शहरों को भी झुलसाने लगी हैं। मुंबई और उसके आस-पास के शहरों में सुरक्षा के मद्देनजर बंद का ऐलान किया गया था।

आज मुंबई की सभी लोकल ट्रेनें बंद रहेंगी और बसें भी नहीं चलेंगी। इस बंद से सबसे ज्यादा स्कूल बसें और कॉलेज प्रभावित होंगे। मुंबई के सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने इस मामले में न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

ये भी पढ़ें- ट्रंप प्रशासन का एच-1 बी वीजा प्रस्ताव, 5 लाख भारतीयों को लौटना पड़ सकता है स्वदेश

गृहमंत्री ने फोन पर की बात

गृहमंत्री राजनाथ सिहं ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से फोन पर बात कर राज्य के हालात की जानकारी ली। सीएम ने स्थिति नियंत्रण में होने का दावा किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि अतिरिक्त सुरक्षाबलों की अभी ज़रूरत नहीं।

कई जिलों में धारा 144 लागू

प्रशासन ने हालात को काबू में लाने और अफवाहों को रोकने के लिए औरंगाबाद, पुणे और मुंबई के पूर्वी उपनगरीय इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गई है। पुलिस ने बताया कि स्थिति सामान्य होने तक अधिसूचित इलाकों में निषेधाज्ञा लागू रहेगी।

ये भी पढ़ें- अमेरिकी मदद रोकने से बौखलाया पाक, ट्रंप के खिलाफ सड़क पर उतरे आतंकी संगठन

ऐसे हुआ विवाद

महाराष्ट्र में 200 साल पुराने एक युद्ध को लेकर संग्राम हो रहा है। 1 जनवरी 1818 को पुणे में राज करने वाले ब्राह्मण शासक पेशवाओं को अंग्रेजों ने दलितों के साथ मिलकर हराया। इस लड़ाई में बाजीराव पेशवा द्वितीय की हार हुई थी. इसी जीत पर दलितों ने शौर्य दिवस मनाया तो हिंदुत्ववादी संगठनों ने विरोध किया। दो गुटों में भड़की हिंसा में एक शख्स की मौत हो गई थी।

Share it
Top