Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महाराष्ट्र के 13 जिलों में खड़ा हुआ जल संकट, जानें इसकी मुख्य वजह

महाराष्ट्र के 13 जिलों की करीब 170 तहसीलों में इस साल कम बारिश होने से बांधों में जलस्तर में खासी कमी आयी है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। राज्य सरकार ने समस्या को देखते हुए पेयजल की आपूर्ति के लिए टैंकर भेजने शुरू कर दिए हैं।

महाराष्ट्र के 13 जिलों में खड़ा हुआ जल संकट, जानें इसकी मुख्य वजह
X

महाराष्ट्र के 13 जिलों की करीब 170 तहसीलों में इस साल कम बारिश होने से बांधों में जलस्तर में खासी कमी आयी है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। राज्य सरकार ने समस्या को देखते हुए पेयजल की आपूर्ति के लिए टैंकर भेजने शुरू कर दिए हैं।

इसके साथ ही यह आकलन किया जा रहा है कि क्या स्थिति को सूखा कहा जा सकता है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार मराठवाड़ा क्षेत्र के औरंगाबाद और नासिक प्रमंडलों में इस साल सबसे कम बारिश हुयी।

वहां के बांधों में पानी भंडार क्रमश 27.59 प्रतिशत और 64.89 प्रतिशत बचा है। अतिरिक्त मुख्य सचिव (राहत और पुनर्वास) मेधा गाडगिल ने बताया कि किसी भी क्षेत्र में सूखे की घोषणा के तीन चरणों की प्रक्रिया के बाद की जाती है।

ये भी पढ़ें - S-400 मिसाइल सिस्टम से जुड़ी 10 बड़ी बातें, भारतीय वायुसेना होगी शक्तिशाली

उन्होंने कहा कि सरकार ने 13 जिलों की 170 तहसीलों की पहचान की है जहां कम बारिश हुयी है जहां पहला चरण शुरू किया गया है। इस चरण में यह पहचान की जाती है कि किसी स्थान को सूखा घोषित किया जाए या नहीं।

सरकार ने स्पष्ट किया है कि पहले चरण की घोषणा का अर्थ यह नहीं है कि इन स्थानों को सूखे का सामना करना पड़ रहा है। गाडगिल ने कहा कि राज्य सरकार मिट्टी नमी सूचकांक, सामान्य वनस्पति सूचकांक और जल सूचकांक के संबंध में राष्ट्रीय फसल पूर्वानुमान केंद्र से विस्तृत रिपोर्ट की उम्मीद कर रही है। इसके आधार पर दूसरा चरण शुरू किया जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top