Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिसने धक्के देकर किया था बाहर, फिर उसी का दामन थामेंगे मुख्तार अंसारी!

पहली बार बसपा के ही टिकट पर बने थे विधायक।

जिसने धक्के देकर किया था बाहर, फिर उसी का दामन थामेंगे मुख्तार अंसारी!
नई दिल्ली. गैंगस्टर से राजनेता बने मुख्तार अंसारी 'साइकिल' नहीं मिलने पर 'हाथी' की सवारी कर सकते हैं। जानकारी के मुताबिक, समाजवादी पार्टी में कौमी एकता दल के शामिल होने की कोशिशें असफल होने के बाद बाहुबली मुख्‍तार अंसारी बहुजन समाज पार्टी में शामिल हो सकते हैं।
मऊ सदर से बसपा के टिकट पर मुख्तार अंसारी चुनाव लड़ सकते हैं। हालांकि बसपा की तरफ से इस पर कोई बयान नहीं आया है। पहले कहा जा रहा था कि वे निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं।
कहा जा रहा है कि अखिलेश को मुख्तार अंसारी के छवि से समस्या थी। साथ ही कौमी एकता दल को सपा में शामिल कराने के पीछे शिवपाल यादव थे। इसलिए अखिलेश ने सपा में अंसारी की पार्टी का विलय करने से इंकार कर दिया।
पहली बार बसपा के ही टिकट पर बने थे विधायक
1996 में बसपा के टिकट पर ही मुख्‍तार ने पहला विधानसभा चुनाव जीता था। इसके बाद वे दो चुनाव निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जीते।
मुख्‍तार 2007 में दोबारा बसपा में शामिल हुए, लेकिन 2010 में बसपा ने उन्‍हें अपराधिक गतिविधियों के चलते पार्टी से बाहर कर दिया।
इसके बाद उन्‍होंने कौमी एकता दल बनाया और 2012 में मऊ सीट से चुनाव भी जीता।
मुख्तार मऊ सीट से चार बार विधायक रह चुके हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top