Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भय्यूजी महाराज की मौत पर शिवराज सिंह ने दी श्रद्धांजलि, कांग्रेस ने लगाया ये संगीन आरोप

आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली है। उन्होने सिर पर गोली मारी थी जिसके बाद उन्हें बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

भय्यूजी महाराज की मौत पर शिवराज सिंह ने दी श्रद्धांजलि, कांग्रेस ने लगाया ये संगीन आरोप

आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली है। उन्होने सिर पर गोली मारी थी जिसके बाद उन्हें बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

भय्यूजी महाराज की मौत पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा, संत भैय्युजी महाराज को मेरी श्रद्धांजलि। देश ने एक ऐसा व्यक्ति खो दिया है जो संस्कृति, ज्ञान और निःस्वार्थ सेवा का संगम था।

वहीं भय्यूजी महाराज की खुदकुशी पर कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने कहा, 'मध्यप्रदेश सरकार ने उन्हें विशेषाधिकार और सरकार के समर्थन करने के लिए दबाव डाला था, जिससे उन्होने इनकार किया। वह बहुत सारे मानसिक दबाव में थे। सीबीआई जांच की जानी चाहिए।'
कौन थे भय्यूजी महाराज

भय्यूजी महाराज तब मीडिया की सुर्खियों में आए थे जब इन्होंने सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे का अनशन तुड़वाने में अहम रोल निभाया था। भय्यूजी महाराज का वास्तविक नाम उदय सिंह देशमुख है, लेकिन मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में इन्हें लोग भय्यूजी महाराज के नाम से जानते थे।

भय्यूजी महाराज एक ऐसे आध्यात्मिक गुरु थे जो गृहस्थ जीवन जीते थे। उनकी एक बेटी कुहू है। हाल ही में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन्हें राज्यमंत्री का दर्जा दिया था, जिसे इन्होंने लेने से इनकार कर दिया था।
Next Story
Top