Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लाभ पद विवाद: सोनिया और जया बच्चन ने भी गवाई थी अपनी सदस्यता

आम आदमी पार्टी के 20 विधायको को छोड़नी पढ़ रही है विधायक की सदस्यता । इससे पहले सोनिया और जया बच्चन ने लाभ पद के आरोप में गवाई यह सदस्यता।

लाभ पद विवाद: सोनिया और जया बच्चन ने भी गवाई थी अपनी सदस्यता

चुनाव आयोग द्वारा लाभ का पद मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द करने की सिफारिश के बाद पार्टी ने शुक्रवार को हाईकोर्ट में गुहार लगाई। इन विधायकों को आयोग्य ठहराए जाने के बाद राजनीतिक में तनातनी हो गई है। ऐसा मामला पहली बार नहीं है। इससे पहले यूपीए के शासनकाल में सोनिया गांधी और जया बच्चन को भी अपनी संसद सदस्यता गंवानी पड़ी थी।

साल 2006 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर लोकसभा की सदस्य रहने के दौरान राष्ट्रीय सलाहकार परिषद (NAC) की चेयरमैन पद पर बने रहने के लिए काफी विवाद हुआ था।
विपक्ष ने राष्ट्रीय सलाहकार परिषद के चेयमैन पद को लाभ का पद बताते हुए जमकर हंगामा किया था। हालांकि विवाद बढ़ने पर सोनिया गांधी ने नैतिकता के चलते शांतिपूर्ण तरीके से लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।
इसके अलावा जया बच्चन को भी लाभ पद के मामले में राज्यसभा की सदस्यता गंवानी पड़ी थी। चुनाव आयोग की सिफारिश पर तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने जया बच्चन को राज्यसभा की सदस्यता के अयोग्य करार दे दिया था।
दरअसल, जया बच्चन समाजवादी पार्टी की ओर से राज्यसभा सदस्य होने के साथ ही 'उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद' की चेयरपर्सन भी थी। चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के चेयरपर्सन के पद पर अपने मतलब के लिए इस्तेमाल करना दोषी माना था।
उनकी राज्यसभा सदस्यता को खत्म करने के लिए राष्ट्रपति से सिफारिश की थी। अब लाभ के लिए पद का इस्तेमाल किए जाने का आरोप आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों पर लगा है।
जिसके चलते इनकी विधानसभा की सदस्यता खतरे में पड़ गई है। वहीं, आम आदी पार्टी की सरकार ने इसका सीधा-सीधा आरोप चुनाव आयोग और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताया है। पार्टी का कहना है कि बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव आयोग ने यह कदम उठाया है।
Share it
Top