Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकसभा की बैठक पूरे दिन के लिए स्थगित, फिर लटक गया विपक्ष का ''अविश्वास प्रस्ताव''

लोकसभा आज भी नहीं चल सकी और अन्नाद्रमुक एवं तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सदस्यों की नारेबाजी के बीच कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई। सरकार ने सदन में कहा कि वह अविश्वास प्रस्ताव समेत हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है लेकिन सदस्यों को सदन में व्यवस्था बनानी होगी।

लोकसभा की बैठक पूरे दिन के लिए स्थगित, फिर लटक गया विपक्ष का

लोकसभा आज भी नहीं चल सकी और अन्नाद्रमुक एवं तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सदस्यों की नारेबाजी के बीच कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई। सरकार ने सदन में कहा कि वह अविश्वास प्रस्ताव समेत हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है लेकिन सदस्यों को सदन में व्यवस्था बनानी होगी।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन में व्यवस्था नहीं होने का हवाला देते हुए तेलुगू देशम पार्टी के टी नरसिंहन और वाईएसआर कांग्रेस के वाई बी सुब्बारेड्डी द्वारा सरकार के खिलाफ लाये गए अविश्वास प्रस्ताव को आगे बढ़ाने में असमर्थता जताई। अध्यक्ष ने कहा कि जब तक सदन में व्यवस्था नहीं होगी, तब तक मैं अविश्वास प्रस्ताव को आगे बढ़ाने के लिए 50 सदस्यों की गिनती नहीं कर सकती।

इसके बाद कांग्रेस, माकपा और कुछ दूसरे विपक्षी दलों के सदस्यों ने अपने स्थानों पर खड़े होकर हाथ ऊपर कर दिये। आज एक बार के स्थगन के बाद दोपहर 12 बजे सदन की बैठक पुन: शुरू हुई तो टीआरएस के सदस्य ‘एक राष्ट्र एक नीति' की अपनी मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए आसन के पास आ गए, वहीं अन्नाद्रमुक के सदस्य आगे आकर कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: Facebook Tips: जानें फेसबुक से होने वाले फायदे और नुकसान के बारे में, ऐसे रहें सावधान

संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि मोदी सरकार हर मुद्दे पर जवाब देने के लिए तैयार है। मैं हमारे सभी सदस्यों से निवेदन करता हूं कि वे अपने अपने स्थानों पर जाएं। सदन चलने दें। हम बैंकिंग समेत हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार हैं। अविश्वास प्रस्ताव पर भी चर्चा के लिए तैयार हैं लेकिन सदन में व्यवस्था जरूरी है। उधर तेदेपा के सदस्य अपने स्थान पर खड़े होकर शोर-शराब कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: मोदी सरकार ने कसी नकेल, अब नहीं बना सकेंगे फर्जी राशनकार्ड

हंगामे के बीच ही अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने आवश्यक कागजात सदन के पटल पर रखवाए और सदन में व्यवस्था बनाने की अपील की। हंगामा थमता नहीं देख सुमित्रा महाजन ने कहा कि सदन में व्यवस्था नहीं होने के कारण वह अविश्वास प्रस्ताव को आगे बढ़ाने में असमर्थ हैं । इसके बाद उन्होंने सदन की बैठक को पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया।

इसे भी पढ़ें; चैत्र नवरात्रि के पांचवें दिन 'स्कंदमाता' को प्रसन्न करने के लिए बेहद खास है ये 1 मंत्र

इससे पहले आज सुबह 11 बजे भी हंगामे के कारण सदन की बैठक शुरू होते ही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई थी। बजट सत्र के दूसरे चरण की शुरूआत से ही आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा, कावेरी जल प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग और पीएनबी धोखाधड़ी मामले समेत कई अन्य मुद्दों पर विभिन्न दलों के हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही बाधित रही है।

इनपुट भाषा

Next Story
Top