Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकसभा चुनाव 2019: ममता बोलीं- मोदी सरकार की एक्सपायरी डेट आ गई है, हम देश के लिए मिलकर काम करेंगे

लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय नता पार्टी (भाजपा) का विजयी रथ रोकने के लिए विपक्ष एक हो गया है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की आगुआई में आज 20 राजनीतिक दलों के नेता भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ कोलकाता में साझी लड़ाई की घोषणा शुरू कर दी है।

लोकसभा चुनाव 2019:  ममता बोलीं- मोदी सरकार की एक्सपायरी डेट आ गई है, हम देश के लिए मिलकर काम करेंगे

लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय नता पार्टी (भाजपा) का विजयी रथ रोकने के लिए विपक्ष एक हो गया है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की आगुआई में आज 20 राजनीतिक दलों के नेता भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ कोलकाता में साझी लड़ाई की घोषणा शुरू कर दी है। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेतृत्व में 'यूनाइटेड इंडिया' के लिए भीड़ जुटी है। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ममता बनर्जी को पत्र लिखकर रैली का समर्थन किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीएम ममता बनर्जी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी इस बार 125 सीटों के भीतर सिमट जाएगी।

लाइव अपडेट..

पश्चिंम बंगाल की मुख्यमंत्री ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने देश की सभी संस्थाओं को बर्बाद कर दिया है। पीएम मोदी को लगता है कि वे ईमानदार हैं। पीएम मोदी पर सीधा बार करते हुए कहा कि आपने अखिलेश को नहीं छोड़ा, मायावती को नहीं छोड़ा, लालू जी को नहीं छोड़ा और हमको भी नहीं छोड़ा। किसी को भी नहीं छोड़ा। अब ये मिलकर मोदी जी को नहीं छोड़ेंगे। अब हर आदमी नेता है और हम आदमी कार्यकर्ता है। मोदी सरकार की एक्सपायरी डेट आ गई है। हम देश के लिए एक नई सुबह लाने के लिए मिलकर काम करेंगे।

नेता तेजस्वी यादव रैली को संबोधित करते हुए बोले- अगर चौकीदार अपना काम सही से नहीं करेगा, चोरी करेगा तो थानेदार उसको सजा जरूर देगा और थानेदार देश की जनता है। केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि अगर आप उनसे हाथ मिला लो तो आप राजा हरिश्चंद्र हैं और खिलाफ बोला तो फिर CBI और ED आपके पीछे लग जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि हम लोग अलग-अलग राजनीतिक दल से हैं और अलग-अलग भाषा वाले हैं क्योंकि हमारी अनेकता में ही एकता है। विपक्ष की अनेकता ही उसकी शक्ति बनेगी। हम डराने-धमकाने की रणनीति से नहीं डरते। हमें देश को बचाना है और हम बचाएंगे।

शत्रुघ्न सिन्हा रैली को संबोधित करते हुए बोले- मुझे देशा का मूड दिखाई दे रहा है। देश का और बंगाल का एक ही मूड है- परिवर्तन, परिवर्तन, परिवर्तन। मैंने इससे ज्यादा जानदार, शानदार और दमदार रैली कभी नहीं देखी। उन्होंने आगे कहा कि मुझसे लोग सवाल करते हैं कि जब आप भाजपा में हैं तो भाजपा के खिलाफ क्यों बोलते हैं? क्या आप बागी हैं? तो मैं कहता हूं कि अगर सच कहना बगावत है तो हां मैं बागी हूं। अटल बिहारी वापयपेयी जी के जमाने में लोकशाही थी और आज के समय में तानाशाही है।

पूर्व पीएम एचडी देवेगौड़ा रैली को संबोधित करते हुए बोले- केंद्र सरकार सभी मशीनरी का दुरुपयोग करके सभी विपक्षी दलों के नेताओं को प्रताड़ित कर रही है।

मल्लिकार्जुन खड़गे रैली को संबोधित करते हुए बोले- आने वाला आम चुनाव भारत में लोकतंत्र स्थापित पुनर्स्थापित करने के विश्वास के साथ होगा।

शरद पवार रैली को संबोधित करते हुए बोले- एकता का यह शो हमें उम्मीद दे रहा है। मैं ममता बनर्जी को बधाई देता हूं।

चंद्रबाबू नायडू रैली को संबोधित करते हुए बोले- हमारा अभियान है, भारत बचाओ, लोकतंत्र बचाओ है। केंद्र सरकार सीबीआई का दुरुपयोग कर रही है।

समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव रैली को संबोधित करते हुए बोले- भाजपा के लोग हमें चिढ़ाते हुए कहते हैं कि इनके पास तो दूल्हे बहुत हैं, आखिर बनेगा कौन? मैं कहता हूं कि अगर हमारे पास दूल्हे बहुत हैं तो जिसे जनता चुनेगी वो बनेगा। पहले भी ऐसा ही हुआ है। पीएम मोदी के नाम ने देश को निराश कर दिया है। गठबंधन के बाद से वे बेचैन हैं। नए साल में देश में नया पीएम आ जाए तो बड़ी खुशी होगी। चुनावों के नजदीक आते हैं भाजपा ने CBI और ED से भी गठबंधन कर लिया है, लेकिन हमने भी जनता से गठबंधन कर लिया है।

सतीश चंद्र मिश्रा रैली को संबोधित करते हुए बोले- देश के किसान फैक्ट्रियों के बंद होने से संकट में हैं। अल्पसंख्यक समुदाय के लोग भाजपा सरकार में डरे हैं, ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकने की जरूरत है। अगर हमें देश के संविधान को बचाना चाहते हैं, तो भजपा सरकार से छुटकारा पाना होगा।

कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी रैली को संबोधित करते हुए बोले- ये हमारा दुर्भाग्य है कि आज केंद्र में एक ऐसी सरकार है जिसका नेतृत्व ऐसे नेता करते है जिनका संविधान पर भरोसा नहीं है।

सतीश चंद्र मिश्रा रैली को संबोधित करते हुए बोले- भारतीय जनता पार्टी जनता का वोट पाने के लिए उनसे झूठ बोल रही है। देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। किसान, मजदूर, अल्पसंख्यक और दलितों को तंग किया जा रहा है।

एमके स्टालिन रैली को संबोधित करते हुए बोले- नोटबंदी के दौरान मोदी जी ने जनता से उनके खाते में 15 लाख रुपए देने का वादा किया था। वो 15 लाख किसी के खाते में पैसे नहीं आए। मोदी सरकार में पेट्रोल-डीजल, सब्जी और रोजमर्रा के सामानों के दाम आसमान छू रहे हैं।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल रैली को संबोधित करते हुए बोले- देश का युवा नौकरियों के लिए परेशान हैं। नोटबंदी करके पीएम मोदी ने देश की 125 करोड़ नौकरियां खा ली हैं। इंश्योरेंस कंपनियां मोदी जी की दोस्त हैं। किसानों की फसले बर्बाद होती हैं तो मोदी जी और शाह उन्हें इंश्योरेंस कंपनियों के हवाले कर देते हैं। मोदी और शाह अगर 2019 में सत्ता में आए तो देश बर्बाद हो जाएगा। अगर मोदी और शाह दोबारा लौट आए तो तो संविधान खत्म कर देंगे, चुनाव खत्म कर देंगे, लोकशाही खत्म कर देंगे, तानाशाही ले आएंगे। इन लोगों को को जड़ से उखाड़ फेंकने की जरूरत है। मोदी और अमित शाह जाने वाले हैं, देश के अच्छे दिन आने वाले हैं।

झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन ने शनिवार को भाजपा को देश से उखाड़ फेंकने का आह्वान करते हुए विपक्षी दलों से अपील की कि अगले लोकसभा चुनावों में वे सांप्रदायिक पार्टी को करारा' जवाब दें। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मेजबानी में विशाल संयुक्त विपक्षी रैली में सोरेन ने कहा कि जिस तरह से भाजपा देश को चला रही है उससे देश में ‘‘हिंसा और अशांति का माहौल' पैदा हो गया है। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी विपक्षी दलों को सांप्रदायिक ताकतों का माकूल जवाब देना होगा... हमें भाजपा को ना सिर्फ केंद्र से उखाड़ फेंकना होगा बल्कि उसे राज्यों से भी हटाना होगा।

फारूक अब्दुल्ला रैली को संबंधित करते हुए बोले- ये किसी को हटाने के लिए देश को बचाने की बात है, आज देश खतरे में हैं। देश को बचाने के लिए विपक्ष के नेता कुर्बानी देने के लिए तैयार रहें। उन्होंने आगे कहा कि हम सबकों मिलकर चुनाव आयोग के पास जाना चाहिए, ताकि ईवीएम के जरिए चुनाव न हों। भाजपा सरकार ने कश्मीर को तोड़ दिया है। देश में आज हर जहग पर लोगों को लड़ाया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि देश में ऐसी हुकूमत आए की हमारी बहनों के हक के लिए कार्य कर सके। माैं मुसलमान जरूर हूं लेकिन भारत का हिस्सा भी हूं।

जनता दल सेक्युलर के नेता शरद यादव रैली को संबंधित करते हुए बोले- भारत संकट के दौर से गुजर रहा है, देश के किसान तबाह है, नौजवान बर्बादी की कगार पर हैं। नोटबंदी के कारण भारत की अर्थव्यवस्था 12 साल पीछे चली गई है। जीएसटी की वजह से छोटे दुकानदारों का व्यापार ठप है।

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी रैली को संबोधित करते हुए बोले- आज कोलकाता में 22 पार्टियों का इन्द्रधनुष दिखाई दे रहा है। आप इसे महागठबंधन या कुछ और नाम दे लीजिए। इसके लिए मैं ममता बनर्जी को बधाई देता हूं। पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि एक नया भारत बनाएंगे, भाजपा को भगाएंगे। जनता की यही पुकार, अब नहीं चाहिए मोदी सरकार।

अरुण शौरी रैली को संबोधित करते हुए बोले- नोटबंदी जैसा फैसला किसी सरकार ने नहीं किया, राफेल जैसा घोटाला किसी सरकार में नहीं हुआ। विपक्ष के एकजुट होकर अर्जुन बनना होगा। मोदी सरकार ने संस्थाओं को बर्बाद किया, सबसे अधिक झूठ बोल, हमें इस सरकार को हटाना है। पीएम मोदी को भी इस बात का अंदेशा हो गया है कि उनकी जड़ें हिल चुकी हैं, इसलिए अब वे किसी भी हद तक जा सकते हैं।

यशवंत सिन्हा ने रैली को संबोधित करते हुए बोले- हम सब नरेंद्र मोदी को हटाने के लिए इकट्टा हुए हैं, मोदी सरकार ने लोकतांत्रिक संस्था को बर्बाद किया है। भाजपा ने नारा दिया सबका साथ सबका विकास। लेकिन उन्होंने सबका साथ लिया लेकिन सबका विनाश भी कर दिया।

हेमंत सोरेन ने रैली को संबोधित करते हुए बोले- किसान मजदूर, दलितों का शोषण हो रहा है। बीजेपी और संघ को सत्ता से हटाना है। सांप्रदायिक ताकतों का जवाब देंगे क्षेत्रीय दल। भाजाप सरकार में दलित, आदिवासियों का शोषण हुआ है। एकता और अखंडता देश की सबसे बड़ी ताकत है।

लालडुआमा रैली को संबंधित करते हुए बोले- हम देश में एक धर्मनिरपेक्ष सरकार चाहते हैं। भारतीय जनता पार्टी, आरएसएस और बजरंग दल के लोग भारत का इतिहास बदलने की कोशिश कर रहे हैं।

अरुणाचल प्रदेश के पूर्व सीएम गेगांग अपांग रैली को संबंधित करते हुए बोले- मैं ममता दीदी को इस आयोजन के लिए धन्यवाद करना चाहता हूं। मैं ममता दीदी के हाथों को मजबूत करने आया हूं। हमें देश के लोकतंत्र को बचाने की जरूर है। भाजपा सरकार को हटाना है।

जयंत चौधरी रैली को संबोधित करते हुए बोले- बंगाल जो आज सोचता है, भारत कल सोचता है। ममता दीदी ने आज इसे कर दिखाया है। ममता दीदी की सरकार में बंगाल का बहुत विकास हुआ है। अच्छे दिन लाना है तो मोदी जी को भगाना है।

जिग्नेश मेवाणी ने रैली को संबोधित करते हुए बोले- देश बुरे दौर से गुजर रहा है, संविधान को खत्म करने की कोशिश की जा रही है।

हार्दिक पटेल ने ममता बनर्जी की मेगा रैली को संबोधित करते हुए बोले- देश को बचाने के लिए विपक्ष एकजुट हुआ है। सुभाष चंद्र बोस लड़े थे गोरों से हम लड़ेंगे चोरी से।

ममता बनर्जी की अगुवाई वाली ‘महारैली’ की शुरुआत हार्दिक पटेल के भाषण से हुई है।

बिग्रेड मैदान में ममता बनर्जी की रैली शुरू।

रैली में शामिल होने के लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल कोलकाता पहुंचे।

रैली में शामिल होने के लिए समाजवादी पार्टी चीफ अखिलेश यादव,डीएमके नेता एमके स्टालिन, भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, अरुणाचल के पूर्व मुख्यमंत्री गेगोंग अपांग, पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा, राष्ट्रीय लोक दल के नेता अजीत सिंह, राकांपा प्रमुख शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल, लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव, जेएमएम प्रमुख हेमंत सोरेन, नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूख अब्दुल्ला, गुजरात के कांग्रेस विधायक जिग्नेश मेवाणी, पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल और बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा भी रैली में शामिल होने के लिए कोलकता पहुंच गए हैं।

वहीं कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी, आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू ममता की रैली में शामिल होने के लिए शुक्रवार को ही कोलकाता पहुंच गए। रैली में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के शनिवार को पहुंचने की संभावना है।

वहीं भारतीय जनता पार्टी ने इसे विपक्ष का डर बताया है। इस रैली में समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव, डीएमके चीफ एमके स्टालि, पूर्व प्रधानमंत्री देवे गौडा और टीडीपी चीफ चंद्रबाबू नायडु से शनिवार को टीएमसी की अगुवाई वाली मेगा रैली में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की है।

Next Story
Top