Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकसभा चुनाव 2019: राजनाथ सिंह बोले- कभी नहीं कहा, 15 लाख लोगों के खातों में आएंगे

सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के बीच टकराव की घटनाओं पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एएनआई से कहा कि इसका केंद्र सरकार से कोई लेना-देना नहीं है। हम इसके लिए जिम्मेदार नहीं हैं, चुनाव आयोग इस पर गौर करेगा।

लोकसभा चुनाव 2019: राजनाथ सिंह बोले- कभी नहीं कहा, 15 लाख लोगों के खातों में आएंगे

लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर बयानों और चुनाव प्रचार का सिलसिला तेज होता जा रहा है। ऐसे में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को समाचार एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू के दौरान कहा कि भाजपा ने 2014 में लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान लोगों से कभी वादा नहीं किया कि उनके बैंक खातों में 15 लाख रुपए ट्रांसफर किए जाएंगे।

लाइव अपडेट..

हिंसा में लिप्त होने वालों के खिलाफ होगी शख्त कार्रवाई

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि मैं इसे गृह मंत्री के रूप में विश्वास दिलाना चाहता हूं कि किसी को भी भारत में असुरक्षित महसूस करने की जरूरत नहीं है। हिंसा में लिप्त होने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, चाहे वह किसी भी धर्म का हो।

राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि मैंने कल जम्मू में कहा था कि भारत के किसी भी हिस्से में पढ़ाई करने या रहने वाले कश्मीरियों की सुरक्षा सभी नागरिकों की जिम्मेदारी है। यहां तक कि इस बारे में सभी राज्यों को एक एडवाइजरी भी जारी की गई थी।

विपक्षी दलो पर छापेमारी पर

समाचार एजेंसी एएनआई की संपादक स्मिता प्रकाश ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से इंटरव्यू के दौरान सवाल किया कि विपक्षी नेताओं पर छापी क्यों मारे जा रहे हैं।इस सवाल के जावब में उन्होंने कहा कि छापेमारी सालों से चला आ रहा है आज शुरू नहीं किया गया। छापेमारी करने वाली एजेंसियां स्वायत्त संस्था हैं। उन पर चुनाव आचार संहिता लागू नहीं होती। उन्होंने अपने इनपुट के आधार पर कार्रवाई की है। हम उन्हें कैसे रोक सकते थे? इसके लिए सरकार को दोष देना ठीक नहीं है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर भाजपा के घोषणा पत्र की आलोचना की। जिसपर राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि भारत के राजनीतिक इतिहास में बहुत सारे लोग घोषणापत्र बनाने में शामिल थे, इसलिए वह जो कह रहे हैं सब निराधार है, वे ऐसी बातें कहते रहते है, इसे गंभीरता से न लें।

सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के बीच टकराव की घटनाओं पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एएनआई से कहा कि इसका केंद्र सरकार से कोई लेना-देना नहीं है। हम इसके लिए जिम्मेदार नहीं हैं, चुनाव आयोग इस पर गौर करेगा।

15 लाख खाते में आएंगे..

इंटरव्यू के दौरान राजनाथ सिंह ने यहा भी कहा कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान हमने लोगों से वादा नहीं किया था कि उनके खातों में 15 लाख रुपए आएंगे। हमने काले धन के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही तो और हमने काले धन के खिलाफ कार्रवाई की भी।

फारूक अब्दुल्ला के बयान पर कही ये बात..

फारूक अब्दुल्ला अनुच्छेद 370 वाले बयान पर राजनाथ सिंह ने कहा कि कश्मीर कभी भी भारत से अलग नहीं होगा; कोई भी ताकत कश्मीर को भारत से अलग नहीं कर सकती। हमने अपने घोषणापत्र में साफ कर दिया है कि अगर हम फिर से सत्ता में आते हैं तो अनुच्छेद 35 ए को निरस्त कर दिया जाएगा। भारत में दो राष्ट्रपतियों और प्रधानमंत्रियों का कोई सवाल नहीं

महबूबा मुफ्ती के बयान पर राजनाथ सिंह

महबूबा मुफ्ती के अनुच्छेद 35 ए पर दिए गए बयान पर राजनाथ सिंह ने एएनआई को दिए इंटरव्यू में कहा कि यह हताशा है, और कुछ नहीं। वह कुछ भी कह सकती है, लेकिन हम वही करेंगे जो हमने तय किया है। बता दें कि महबूबा मुफ्ती ने अनुच्छेद 35 ए पर कहा था कि अगर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 35 ए को खत्म कर दिया जाता है तो केवल कश्मीर नहीं बल्कि भारत भी जल जाएगा।

राजनाथ सिंह ने बालाकोट एयर स्ट्राइक

इंटरव्यू के दौरान राजनाथ सिंह ने बालाकोट पर कहा कि भारत की तरफ से जब बालाकोट में एयर स्ट्राइक की गई तो उस दौरान इस बात का पूरा ख्याल रखा गया था कि नागरिकों को कोई नुकसान न पहुंचे। एयर स्ट्राइक पर सरकार से सवाल पूछो लेकिन सेना से सबूत मत मांगो।

Next Story
Top