Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019: प्रयागराज से चुनाव अभियान का शंखनाद करेंगी प्रियंका, नदी मार्ग से जा सकती हैं काशी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के, पूर्वी उत्तर प्रदेश के राजनीतिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण क्षेत्र प्रयागराज (Prayagraj) से लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) का प्रचार अभियान शुरू करने की संभावना है।

लोकसभा चुनाव 2019: प्रयागराज से चुनाव अभियान का शंखनाद करेंगी प्रियंका, नदी मार्ग से जा सकती हैं काशी
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के, पूर्वी उत्तर प्रदेश के राजनीतिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण क्षेत्र प्रयागराज (Prayagraj) से लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) का प्रचार अभियान शुरू करने की संभावना है।
जनता से सीधा संवाद स्थापित करने के लिए वह नदी के रास्ते प्रयागराज से वाराणसी जा सकती हैं । कांग्रेस (Congress) के एक वरिष्ठ नेता ने शुक्रवार को बताया कि पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को पहले शुक्रवार यानी आज ही यहां पहुंचना था लेकिन अब वह संभवत: 18 मार्च से चुनाव प्रचार अभियान शुरू करेंगी ।
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर (Raj Babbar) ने पहले कहा था कि प्रियंका शुक्रवार को यहां पहुंचेंगी। लेकिन बाद में उन्होंने स्पष्ट किया कि प्रियंका का कार्यक्रम स्थगित हो गया है । चुनाव आयोग को सौंपे पत्र में कांग्रेस महासचिव की प्रयागराज से वाराणसी की यात्रा 18 मार्च से 20 मार्च के बीच होने के मद्देनजर अनुमति मांगी गयी है ।
कांग्रेस नेता ने यह भी जानकारी दी कि प्रियंका नदी मार्ग से मोटरबोट के जरिए जाएंगी और सौ किलोमीटर का सफर तय करेंगी । नदी तटों पर उनके स्वागत के कार्यक्रम भी प्रस्तावित हैं, जिसके लिए आदर्श आचार संहिता के अनुरूप चुनाव आयोग से अनुमति आवश्यक है ।
पार्टी नेताओं ने बताया कि प्रियंका नदी तटों पर बसे लोगों विशेषकर मल्लाह समुदाय के लोगों से सीधा संवाद करेंगी । आम तौर पर नदी तट के इन इलाकों तक सड़क मार्ग से जाना मुश्किल है । 17 मार्च को प्रियंका के राज्य की राजधानी पहुंचने की उम्मीद है ।
अगले दिन वह प्रयागराज जाएंगी और कांग्रेस के प्रचार अभियान का शंखनाद करेंगी । कांग्रेस नेता ने कहा कि नदी तट के गांव बेहद पिछड़े हैं । पिछले 30 साल में राज्य सरकारों ने उनकी अनदेखी की है । कांग्रेस प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने बताया कि चुनाव आयोग से अनुमति मांगी गयी है और मंजूरी की प्रतीक्षा है ।
उन्होंने बताया कि प्रियंका के कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार करने के लिए बैठकों का दौर कल से ही जारी है । जल्द ही विस्तृत कार्यक्रम तैयार कर लिया जाएगा । प्रयागराज में प्रियंका नेहरू परिवार का आधिकारिक आवास रहे आनंद भवन जा सकती हैं । उनके मिर्जापुर में मां विंध्यवासिनी और वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन करने की भी संभावना है।
Next Story
Share it
Top