Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकसभा चुनाव 2019 : कोझिकोड में पीएम मोदी बोले- सुप्रीम कोर्ट के आदेश की आड़ में कुछ ताकतों ने फिर अपना स्वार्थ साधने की कोशिश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में सत्ताधारी एलडीएफ और विपक्षी कांग्रेस पर शुक्रवार को निशाना साधते हुए कहा कि राज्य की राजनीति में दशकों से अपने प्रभुत्व के बावजूद उन्होंने राज्य के लोगों को निराश किया है।

लोकसभा चुनाव 2019 :  कोझिकोड में पीएम मोदी बोले- सुप्रीम कोर्ट के आदेश की आड़ में कुछ ताकतों ने फिर अपना स्वार्थ साधने की कोशिश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल में सत्ताधारी एलडीएफ और विपक्षी कांग्रेस पर शुक्रवार को निशाना साधते हुए कहा कि राज्य की राजनीति में दशकों से अपने प्रभुत्व के बावजूद उन्होंने राज्य के लोगों को निराश किया है। यहां विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य के लिए एक ऐसा विकल्प पेश करती है जो समावेशी, लोकतांत्रिक और करूणामयी होगा।

मोदी ने कहा कि केरल की राजनीति में दशकों से कम्युनिस्ट एलडीएफ और सांप्रदायिक यूडीएफ का प्रभुत्व रहा है, लेकिन उन्होंने केरल के लोगों को बुरी तरह निराश किया है। उन्होंने कहा कि जपा ऐसा विकल्प पेश करती है जो समावेशी, लोकतांत्रिक और करूणामयी है। हम हर एक नागरिक की सेवा करेंगे। मोदी ने कहा कि कांग्रेस और एलडीएफ को चुनना उनके नेताओं को भ्रष्टाचार करने का लाइसेंस देने जैसा है।

दिन में महाराष्ट्र के अहमदनगर और उत्तरी कर्नाटक के गंगावती में रैलियों को संबोधित करने के बाद यहां आए मोदी ने कहा कि यूडीएफ और एलडीएफ के सिर्फ नाम अलग-अलग हैं, लेकिन उनके कृत्य एक जैसे हैं। मोदी ने कहा कि केरल में लोगों की सेवा करने पर भाजपा के कार्यकर्ताओं पर हमले हुए हैं और उनकी हत्या की गई है। इस रैली में कासरगोड से लेकर पलक्कड़ लोकसभा सीटों तक के राजग उम्मीदवारों ने प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा किया।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी का पूरा प्रयास होगा कि सुप्रीम कोर्ट के सामने केरल की सैकड़ों वर्ष पुरानी आस्था, परंपरा और पूजा पद्धति का विषय विस्तार से रखा जाए। हमारी सरकार ये भी कोशिश करेगी कि आस्था और विश्वास के विषयों को संवैधानिक संरक्षण मिले।

अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश की आड़ में कुछ ताकतों ने फिर अपना स्वार्थ साधने की कोशिश की है। हमारी परंपराओं पर ये हमला, स्वीकार नहीं होगा। निर्दोष भक्तों पर लाठियां, अब स्वीकार नहीं होंगी।

भारत की हजारों वर्ष की सांस्कृतिक परंपरा है, इन परंपराओं पर लोगों का विश्वास है। सैकड़ों वर्षों की गुलामी के दौरान विदेशी ताकतों ने बार-बार इन परंपराओं को तार-तार करने का प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हो पाईं।

कोझिकोड बीच फ्रंट ने यह रैली आयोजित की थी। लोकसभा चुनावों की घोषणा के बाद केरल में यह पीएम मोदी की पहली चुनावी रैली थी। केरल की सभी 20 लोकसभा सीटों पर तीसरे चरण में 23 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। 23 अप्रैल से पहले मोदी एक बार फिर केरल आ सकते हैं।

Next Story
Top