Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019 : जानें गिरीराज सिंह के खिलाफ कौन हैं CPI प्रत्याशी कन्हैया कुमार, बेगूसराय में है दबदबा

लोकसभा चुनाव में बिहार की बेगूसराय सीट पर मुकाबला काफी दिलचस्प होने वाला है। भाजपा ने बेगूसराय सीट से अपने कद्दावर नेता गिरीराज सिंह को मैदान में उतारा है। तो वहीं दूसरी तरफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष और देशद्रोह मामले के आरोपी कन्हैया कुमार को खड़ा किया है।

लोकसभा चुनाव 2019 : जानें गिरीराज सिंह के खिलाफ कौन हैं CPI प्रत्याशी कन्हैया कुमार, बेगूसराय में है दबदबा
लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में बिहार (Bihar) की बेगूसराय सीट (Begusarai ) पर मुकाबला काफी दिलचस्प होने वाला है। भाजपा ने बेगूसराय सीट से अपने कद्दावर नेता गिरीराज सिंह (Giriraj singh) को मैदान में उतारा है। तो वहीं दूसरी तरफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) ने जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष और देशद्रोह मामले के आरोपी कन्हैया कुमार (kanhaiya kumar) को खड़ा किया है।
सीपीआई प्रत्याशी कन्हैया कुमार ने प्रचार और बयानबाजी शुरू कर दी है। कन्हैया कुमार ने प्रचार के लिए लोगों से सहयोग मांगा है तो वहीं बेगूसराय से उन्हें दो दिन में 2.16 लाख रुपये का चंदा भी मिला है। बीते रविवार से को कन्हैया कुमार ने चुनावी बिगूल फूका और गिरिराज सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि बेगूसराय की जनता तो गिरिराज सिंह को हराएगी।
वहीं उन्होंने चुनावी प्रचार के दौरान कहा कि वो बिहार में सीपीआई का प्रचार तो करेंगे लेकिन साथ ही महागठबंधन का भी प्रचार करेंगे। बता दें कि बिहार में सीपीआई और कांग्रेस समेत महागठबंधन भाजपा का सफाया करने के लिए एक हो गए हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पटना में कहा कि जहां मैं सीपीआई का उम्मीदवार नहीं होंगा वहां मैं महागठबंधन की तरफ से प्रचार करूंगा।

जानें कौन हैं कन्हैया कुमार

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के बेगूसराय से उम्मीदवार और जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार का जन्म बिहार के बेगुसराय जिले के एक गांव में हुआ है। उनके पिता का नाम जयशंकर सिंह है जो पैरालिसिस जैसी बीमारी से पीड़ित हैं। तो वहीं मां मीना देवी एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हैं।

कन्हैया कुमार की पढ़ाई

कन्हैया कुमार ने आरकेसी हाई स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की है। इसके बाद वो पटना के कॉलेज ऑफ कॉमर्स पहुंचे। पटना में पोस्ट ग्रेजूएशन खत्म करने के बाद वो दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्याल पहुंचे।

कन्हैया कुमार का जेएनयू से नाता

उन्होने जेएनयू में अफ्रीकन स्टडीज के लिए पीएचडी के लिए एडमिशन लिया। वहां वो एक छात्र नेता के रुप में काम किया। जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष भी रहे हैं। दिल्ली में पढाई के दौरान वो ऑल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन सदस्य बने।
बेगूसराय इंडस्ट्रियल इलाका है। जहां सीपीआई का बोलबाला है। तो बचपन से ही उनका छुकाव सीपीआई की तरफ रहा है। उनके बड़े भाई प्राइवेट सेक्टर में काम करते हैं।

वामदल और महागठबंधन

लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 सीटों पर भाजपा और जेडीयू एक तरफ हैं तो वहीं वामदल और महागठबंधन दूसरी तरफ है। इस बार महागठबंधन में कांग्रेस, आरजेडी, हम, वीआईपी, भाकपा के बीच गठबंधन हुआ है। राजद 20, कांग्रेस 9, रालोसपा 5, हम और विकासशील इंसान पार्टी को तीन तीन सीटें दी गई हैं। वहीं भाकपा (माले) को आरजेडी ने अपने कोटे की एक सीट दी है। जिसपर बेगूसराय से कन्हैया कुमार पर बड़ा दाव खेला गया है।

बिहार की लोकसभा सीट

बिहार की 40 सीटों के लिए 7 चरणों में चुनाव होगा। इस बार चुनाव आयोग ने 7 चरणों में ही चुनाव करने की घोषणा भी की है। वोटों की गिनती 23 मई को होगी। पहला चरण-11, दूसरा चरण-18, तीसरा चरण-23, चौथा चरण 29, पांचवा चरण-6, छठा चरण 12 मई और सांतवा चरण 19 मई को होगा।
Share it
Top