Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राहुल गांधी ने घोषणा पत्र में किए ये पांच बड़े वादे, बेरोजगार युवाओं की बल्ले-बल्ले

लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी ने घोषणा पत्र जारी किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय दिल्ली में प्रेस के सामने पार्टी के मेनिफेस्टो के बारे में घोषणा जारी किया। यहां जाने कांग्रेस के कौन-कौन से पांज मुद्दे हैं...

राहुल गांधी ने घोषणा पत्र में किए ये पांच बड़े वादे, बेरोजगार युवाओं की बल्ले-बल्ले

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) की तारीख के ऐलान होने के बाद आज भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (कांग्रेस पार्टी) ने घोषणा पत्र जारी किया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस मुख्यालय दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पार्टी का घोषण पत्र जारी किया, जिसमें उन्होंने जनता से 5 बड़े वादे भी किए हैं। आइये जातने हैं कांग्रेस के इन 5 बड़े वादों के बारे में...

  1. कांग्रेस हर साल गरीब लोगों के खाते में 72000 रुपए डालेगी। इस स्कीम का नारा 'गरीबी पर वार, हर साल 72 हजार' है।
  2. बेरोजगार युवाओं के लिए कांग्रेस ने 22 लाख सरकारी नौकरियों का वादा किया है। वहीं 10 लाख लोगों को ग्राम पंचायत में रोजगार देने का भी वायदा किया है।
  3. मनरेगा में 100 दिनों के काम को बढ़ाकर 150 दिनों का ऐलान किया है।
  4. यूनिवर्सिटीज, आईआईटी, आईआईएम समेत टॉप संस्थानों तक गरीबों की पहुंच बनाने के लिए शिक्षा पर जीडीपी का 6 फीसदी खर्च किया जाएगा।
  5. किसान कर्ज न लौटाए तो कोई अपराधिक मामला दर्ज नहीं होगा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि हमने जो वादा किया है उसे निभाएंगे। हम प्रधानमंत्री मोदी की तरह रोज-रोज झूठे वायदे नहीं करते। राहुल ने कहा कि इस घोषणापत्र को लोगों के राय से बनाया गया है। इसके लिए हमने लगभग एक साल तक कड़ी मेहनत की है। बता दें कि पार्टी अपने घोषणापत्र के शीर्षक का नाम भी 'हम निभाएंगे' रखा है।

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी यह घोषणा पत्र देश भर में जारी करेगी। हमारे मेनिफेस्टो में गरीबों की समस्याओं को जगह दिया गया है। घोषणा पत्र में गरीबों, छात्रों, किसानों और अल्पसंख्यकों की समस्याओं ध्यान में रखते हुए बनाया गया है।

राहुल गांधी के घोषणा पत्र जारी करने के दौरान महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम, पूर्व रक्षा मंत्री एके. एंटनी, प्रवक्ता रणदीप सुरेजवाला, आरपीएन सिंह, दिल्ली की प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत समेत कई दिग्गज नेता मौजूद थे।

कांग्रेस पार्टी के इस मेनिफेस्टो को पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के नेतृत्व वाली कमेटी ने तीन महीने में तैयार किया है। इस कमेटी ने अमर्त्य सेन जैसे कई दिग्गज अर्थशास्त्रियों से सलाह ली थी।

Next Story
Top