Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019 : ''आप'' का नहीं होगा ''कांग्रेस'' के साथ ''गठबंधन'', 7 में से 6 सीटों पर उतारे उमीदवार

कांग्रेस (Congress) के साथ गठबंधन की अटकलों को विराम देते हुए आम आदमी पार्टी (AAP) ने दिल्ली में आगामी लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के लिए सात सीटों में से छह पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा शनिवार को कर दी। आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सातवीं सीट पर पार्टी के प्रत्याशी का नाम जल्द घोषित किया जाएगा।

लोकसभा चुनाव 2019 :

कांग्रेस (Congress) के साथ गठबंधन की अटकलों को विराम देते हुए आम आदमी पार्टी (AAP) ने दिल्ली में आगामी लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) के लिए सात सीटों में से छह पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा शनिवार को कर दी। आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सातवीं सीट पर पार्टी के प्रत्याशी का नाम जल्द घोषित किया जाएगा। उन्होंने ट्वीट किया, 'बधाई और शुभकामनाएं। सातवें उम्मीदवार का ऐलान जल्द किया जाएगा। इस बार दिल्ली वालों को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलेगा।

आम आदमी पार्टी (AAP) ने जिन 6 लोकसभा सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की हैं, वे हैं

आप के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पूर्वी दिल्ली से आतिशी चुनाव लड़ेंगी। उत्तर-पश्चिम दिल्ली से गुग्गन सिंह, दक्षिण दिल्ली से राघव चड्ढा, उत्तर-पूर्व सीट से दिलीप पांडेय, चांदनी चौक से पंकज गुप्ता और नई दिल्ली सीट से ब्रजेश गोयल चुनाव लड़ेंगे।

राय के मुताबिक पश्चिम दिल्ली सीट से उम्मीदवार की घोषणा जल्द की जाएगी। इन सभी छह उम्मीदवारों को पहले ही संबंधित लोकसभा सीटों का प्रभारी नियुक्त कर दिया गया था। राय ने कहा कि पिछले महीने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार के आवास पर प्रस्तावित 'महागठबंधन' के नेताओं की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी के साथ अपनी पार्टी के गठजोड़ की पेशकश खारिज कर दी थी और इसके लिए उन्होंने दिल्ली इकाई के नेताओं की आपत्ति का हवाला दिया था।

दिल्ली कांग्रेस ने शुक्रवार को अपनी बैठक में पार्टी आलाकमान को यह बताने का फैसला किया था कि वह दिल्ली में आप से किसी भी तरह के गठजोड़ के खिलाफ है। बैठक में दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने भी भाग लिया था। राय ने कहा कि हम गठबंधन चाहते थे, लेकिन जिस तरह शीला दीक्षित ने इससे मना कर दिया, हमें लगा कि अब चुनाव नजदीक होने की वजह से समय नहीं बचा है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी को अब भी लगता है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ विपक्ष का एक ही उम्मीदवार होना चाहिए।

Next Story
Share it
Top