Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लोकसभा चुनाव 2019 : फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर कुछ भी पोस्ट करने से पहले जानें 9 नए नियम

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) का शंखनाद हो चुका है। चुनाव आयोग (Election Commission) ने लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) की तारीखों का ऐलान कर दिया और इसी के साथ देशभर में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई।

लोकसभा चुनाव 2019 : फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर कुछ भी पोस्ट करने से पहले जानें 9 नए नियम

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) का शंखनाद हो चुका है। चुनाव आयोग (Election Commission) ने लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) की तारीखों का ऐलान कर दिया और इसी के साथ देशभर में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई। चुनाव आयोग (Election Commission) ने पहली बार राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों की सोशल मीडिया गतिविधियों को लेकर कड़े दिशा-निर्देश जारी किए हैं। चुनाव आयोग (Election Commission) के निर्देशों के मुताबिक फेसबुक (Facebook), यूट्यूब (You Tube) और ट्विटर (Twitter) अकाउंट से जुड़ी ऐसी 9 बातें निर्धारित की गई हैं। जिनका पालन लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों को अनिवार्य तौर पर करना होगा।

पहला निर्देश:- लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले सभी उम्मीदवारों को नामांकन दाखिल करते समय अपने फेसबुक और ट्विटर अकाउंट का विवरण चुनाव आयोग को देना होगा।

दूसरा निर्देश:- राजनीतिक दलों या उम्मीदवारों की तरफ से फेसबुक या ट्विटर पर पोस्ट किए जाने वाले किसी भी राजनीतिक विज्ञापन को पूर्व-प्रमाणित कराना अनिवार्य होगा।

तीसरा निर्देश:- कोई भी ऐसा राजनीतिक विज्ञापन, जो सत्यापित नहीं कराया गया है गूगल, फेसबुक, ट्विटर या यूट्यूब पर पोस्ट नहीं किया जा सकता।

चौथा निर्देश:- लोकसभा का चुनाव लड़ रहे सभी उम्मीदवारों को अपने संपूर्ण चुनाव खर्च में सोशल मीडिया विज्ञापन पर किए गए खर्चों को भी शामिल करना होगा।

पांचवां निर्देश:- कोई भी राजनीतिक दल या लोकसभा का चुनाव लड़ने वाला उम्मीदवार अपने प्रचार अभियान के लिए सोशल मीडिया पर सेना या सुरक्षाबलों के जवानों की तस्वीरें डिस्प्ले नहीं कर सकता।

छठवां निर्देश:- अगर कोई प्रत्याशी या राजनीतिक दल सोशल मीडिया के नियमों का किसी भी तरह से उल्लंघन करता है तो उसकी शिकायतों के लिए एक शिकायत अधिकारी नियुक्त किया गया है।

सातवां निर्देश:- किसी भी तरह का भड़काऊ भाषण या फेक न्यूज सोशल मीडिया पर पोस्ट नहीं की जाएगी। ऐसा करने वालों पर फेसबुक, ट्विटर और गूगल ने कार्रवाई करने का वादा किया है।

आठवां निर्देश:- राजनीतिक दलों या लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की तरफ से फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर पोस्ट किए जाने वाले सभी राजनीतिक विज्ञापनों को विशेष रूप से आईटी के दिग्गजों के जरिए हाइलाइट किया जाएगा।

नौंवा निर्देश:- चुनाव आयोग की तरफ से राजनीतिक दलों और लोकसभा प्रत्याशियों के लिए व्हाट्सएप से संबंधित कोई विशेष दिशानिर्देश जारी नहीं किए गए हैं।

Share it
Top