Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

HBD: 88 के हुए भाजपा के मार्गदर्शक एल के आडवाणी

पीएम नरेंद्र मोदी ने लालकृष्ण आडवाणी को जन्मदिन पर उनके घर जाकर बधाई दी।

HBD: 88 के हुए भाजपा के मार्गदर्शक एल के आडवाणी
नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपप्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी का आज 88वां जन्मदिन है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें घर जाकर जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। अडवाणी का जन्म 8 नवंबर 1927 को पाकिस्तान के कराची में हुआ था।
इससे पहले पीएम मोदी ने ट्वीट किया था कि हमारे मार्गदर्शक और प्रेरक, सम्मानीय श्री लालकृष्ण आडवाणी जी को जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं। पीएम मोदी ने लिखा कि, 'मैं आडवाणी जी के दीर्घायु जीवन और बेहतर स्वास्थ्य की कामना करता हूं।" इसके साथ ही अमित शाह ने भी आडवाणी के जन्मदिन पर बधाई देते हुए उनकी लंबी उम्र की कामना की है।
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी वरिष्ठ नेता के जन्मदिन पर बधाई देते हुए उनके अच्छे स्वास्थ्य और लंबी उम्र की कामना की है। नरेंद्र मोदी लालकृष्ण आडवाणी को बर्थडे विश करने उनके घर पहुंचे। पीएम मोदी ने ट्वीट में कहा था कि, 'हम सबकी प्रेरणा, भारत के सबसे बड़े नेताओं में से एक जिन्होंने देश की सेवा की, उन्हें बधाई।
एल. के. आडवाणी का जन्म अखंड भारत के कराची, सिंध प्रान्त, में किशनचंद डी आडवाणी और ज्ञानी देवी के घर हुआ था। उनकी शिक्षा सेंट पेट्रिक हाईस्कूल और दयाराम गिडूमल नेशनल कॉलेज, पाकिस्तान, से हुई और बाद में उन्होंने गवर्मेंट लॉ कॉलेज, बॉम्बे, से स्नातक की शिक्षा प्राप्त की थी।' आडवाणी भारतीय राजनीति में किसी परिचय के मोहताज नहीं है। अाडवाणी एक राजनेता, जन संघ के पूर्व अध्यक्ष, भारतीय जनता पार्टी के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उप-प्रधानमंत्री के तौर पर जाने जाते हैं।
एक अनुभवी राजनेता और भारतीय जनता पार्टी के भूतपूर्व अध्यक्ष, एल के आडवाणी का राजनैतिक सफ़र बहुत लम्बा और उतार-चढाव से भरपूर रहा है। वे भारतीय राजनीति के सर्वाधिक आदरणीय चेहरों में एक हैं। इनका राजनैतिक सफ़र विवादों से भरपूर रहा है – चाहे वो जिन्नाह प्रकरण हो, हवाला कांड हो या फिर बाबरी मस्जिद विध्वंस। उनके उच्च बौध्दिक स्तर, अडिग सिद्धांत और आदर्शो ने उन्हें इन सारी परिस्थितियों से लड़ने में मदद की और उनकी राजनैतिक महत्वाकांक्षाओ को नई उंचाई पर ले गए। एल.के. आडवाणी का व्यक्तित्व प्रभावशाली और दृढ निश्चय से भरपूर है और इसी वजह से वे आज भी कई लोगों के प्रेरणा स्रोत हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top